मृत मछुआरे की पत्नी ने की न्याय की गुहार

तिरुवनंतपुरम, 12 मार्च (आईएएनएस)| केरल तट से लगे अरब सागर में इतालवी सुरक्षा कर्मियों की गोली से मारे गए दो भारतीय मछुआरों में से एक की पत्नी ने न्याय की गुहार लगाते हुए मंगलवार को कहा कि उन्हें वापस देश लाया जाए और उनके खिलाफ यहीं मुकदमा चले। मछुआरे की पत्नी की यह मांग इटली द्वारा अपने आरोपी सुरक्षाकर्मियों को वापस भारत भेजने से इंकार किए जाने के बाद आई है।

मछुआरे गेलस्तीन की पत्नी डोरा ने कहा, "यह कुछ और नहीं, बल्कि उच्च स्तर पर की गई साजिश है। भारत सरकार को इटली के आरोपी सुरक्षा कर्मियों को देश लाना चाहिए और उनके खिलाफ यहां मुकदमा चलाना चाहिए।"

इटली के विदेश मंत्रालय ने सोमवार को यह कहते हुए अपने सुरक्षा कर्मियों को भारत भेजने से इंकार कर दिया कि यह घटना अंतर्राष्ट्रीय जल क्षेत्र में हुई और इसलिए भारत को इसमें कोई अधिकार नहीं है।

सर्वोच्च न्यायालय ने इतालवी मालवाहक जहाज के आरोपी सुरक्षा कर्मियों-मेस्सिमिलानो लाटोरे तथा सेलवाटोरे जिरोने को इटली में 24-25 फरवरी को होने वाले आम चुनाव में मतदान करने के लिए अपने देश जाने की अनुमति दी थी। न्यायालय ने इससे पहले क्रिसमस पर उन्हें अपने देश जाने की अनुमति दी थी, जिसके बाद वे लौट आए थे, लेकिन इस बार इटली ने उन्हें भारत भेजने से मना कर दिया है।

इटली के उक्त दोनों सुरक्षाकर्मियों पर फरवरी 2012 में केरल तट से लगे अरब सागर में भारतीय मछुआरों की नौका को समुद्री लुटेरे समझकर उन पर गोली चलाने का आरोप है, जिसमें दो मछुआरों की मौत हो गई थी। इस मामले में उनके खिलाफ यहां मुकदमा चल रहा है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN