नकदी की कमी से वेतन निकासी होगी प्रभावित : केरल मंत्री

 

कोझिकोड:  भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा नोटों में कमी का संकेत दिए जाने के बाद केरल के वित्त मंत्री थॉमस इसाक ने शुक्रवार को कहा कि इससे दिसम्बर के वेतन की निकासी में दिक्कतें आएंगी। मीडिया से बातचीत करते हुए इसाक ने शुक्रवार को कहा कि राज्य सरकार तो लोगों के दिसम्बर के वेतन और पेंशन की पूरी राशि बैंक खातों और ट्रेजरी में जमा करा देगी, लेकिन इसके बाद भी लोगों को धन निकालने में दिक्कत हो सकती है।

केरल के वित्त मंत्री ने कहा, "हर महीने वेतन और पेंशन वितरण के लिए 1400 करोड़ रुपये की जरूरत होती है। लेकिन, आरबीआई और दूसरे बैंक अधिकारियों ने हमें पहले ही संकेत दिया है कि वे सिर्फ 600 करोड़ की राशि ही उपलब्ध कराने में सक्षम हैं। इससे खातों से 24,000 रुपये अधिकतम निकालने की उम्मीद भी प्रभावित हो सकती है।"

उन्होंने कहा, "हम इस बात से सहमत नहीं हैं और हमने आरबीआई और दूसरे बैंक अधिकारियों से कहा है कि उनका यह कर्तव्य है कि नोट उपलब्ध कराएं।"

इसाक ने यह भी कहा कि वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए जनवरी में बजट पेश कर पाना 'मुश्किल' होगा।

अर्थशास्त्री से वित्तमंत्री बने इसाक ने कहा, "हालात यह हैं कि कोई भी नोटबंदी की वजह से आय और व्यय का अनुमान लगाने में सक्षम होता दिखाई नहीं दे रहा है। हम केंद्रीय बजट पेश होने के बाद फरवरी के अंत या मार्च के शुरू में बजट पेश करेंगे।"

इसाक ने कहा, "केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली दावा कर रहे है कि कर संग्रह में बढ़ोतरी हुई है, लेकिन सही स्थिति जानने के लिए हमें कुछ समय और इंतजार करना होगा।"