कर्नाटक के खनन माफिया जनार्दन रेड्डी फिर गिरफ्तार

बेंगलुरू: लोकायुक्त पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने शुक्रवार को कर्नाटक के खनन माफिया और भाजपा के पूर्व मंत्री गली जनार्दन रेड्डी को गिरफ्तार कर लिया। उन पर राज्य के पश्चिमी तट पर बेलकरी बंदरगाह से लौह अयस्क के अवैध निर्यात में कथित संलिप्तता का आरोप है। एसआईटी के एक अधिकारी ने यहां संवाददाताओं से कहा, "रेड्डी को बेल्लारी जिले में 2008-10 के बीच, लौह अयस्क के अवैध निर्यात मामले में भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत हिरासत में लिया गया है।"

जनार्दन रेड्डी (48) को पांच सितंबर, 2011 को ओब्लापुरम खनन मामले में सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। इस वर्ष 20 जनवरी को उन्हें सर्वोच्च न्यायालय से जमानत मिली थी।

अवैध खनन मामले में दो एजेंसियां जांच कर रही हैं। सीबीआई के साथ-साथ कर्नाटक लोकायुक्त का विशेष जांच दल मामले की जांच कर रही है। एसआईटी के जिम्मे 50 हजार टन या इससे कम के लौह अयस्क के निर्यात की जांच है, जबकि अवैध खनन और इसके निर्यात से जुड़े दूसरे सभी मामलों की जांच की जिम्मेदारी सर्वोच्च न्यायालय ने सीबीआई को सौंप दी है।

अधिकारी ने कहा, "हम उन्हें (रेड्डी) करोड़ों रुपये के घोटाले की जांच के हिस्से के रूप में आगे की पूछताछ के लिए उन्हें हिरासत में लेने के लिए एक स्थानीय अदालत में पेश करेंगे।"

रेड्डी राज्य विधान परिषद के सदस्य हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस। 

 

  • Agency: IANS