कर्नाटक : आप कर रही कम खर्च पर असरदार प्रचार

बेंगलुरू: दिल्ली विधानसभा चुनाव में धमाकेदार प्रदर्शन कर राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां बटोरने वाली आम आदमी पार्टी (आप) लोकसभा चुनाव में यहां के मतदाताओं के बीच पैठ बनाने के लिए 'सस्ता मगर बेहद असरदार प्रचार' का जरिया अपनाए हुई है। राज्य में मतदान गुरुवार को कराया जाएगा।

राज्य की सभी 28 सीटों पर प्रत्याशी उतारना पार्टी के लिए कोई बड़ी समस्या नहीं थी। अपनी प्रतिद्वंद्वी पार्टियों के मुकाबले धनबल की समस्या से जूझ रही पार्टी को प्रचार के लिए स्वयंसेवियों का सहारा है।

बेंगलुरू सेंट्रल से प्रत्याशी वी. बालाकृष्णन ने आईएएनएस को बताया, "हमारा प्रचार स्वयंसेवियों पर टिका है जिन्होंने अपनी आकर्षक नौकरियों से एक 'बड़े कारण' के लिए छुट्टी ले रखी है। हमारा प्रचार सस्ता है, लेकिन यह लोगों के बीच बदलाव के लिए असर पैदा करता है।"

इन्फोसिस में प्रभावी भूमिका अदा कर चुके बालकृष्णन ने अपने शपथपत्र में 189 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की है। वे यहां चौकोने मुकाबले में हैं। उनके खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मौजूदा सांसद पी.सी. मोहन, कांग्रेस के युवा तुर्क रिजवान अरशद और जनता दल-सेक्युलर (जेडी-एस) की नंदिनी अल्वा प्रत्याशी हैं।

इस चुनाव क्षेत्र में 19 लाख मतदाता हैं और यहां सबसे ज्यादा 36 प्रत्याशी मैदान में हैं।

कांग्रेस और भाजपा के चमक-दमक वाले प्रचार के विपरीत आप समर्पित स्वयंसेवियों के सहारे पहुंचने के प्रयास में है। ज्यादातर ये लोग पैदल चलते हुए जनसंपर्क करते हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN