पब में महिलाओं पर हमले को लेकर चर्चा में आए मुतालिक को शामिल किए जाने पर घिरी बीजेपी

हुबली (कर्नाटक): मेंगलूर में साल 2009 में एक पब में महिलाओं पर हुए हमले से जुड़े संगठन श्री राम सेना के विवादित प्रमुख प्रमोद मुतालिक को पार्टी में शामिल किए जाने को लेकर बीजेपी घिरती दिख रही है। कांग्रेस ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि महिलाओं के अधिकारों के मुद्दे पर भगवा पार्टी का पर्दाफाश हो गया है।

मुतालिक को पार्टी में शामिल किए जाने को लेकर जहां बीजेपी विपक्षी दलों के निशाने पर है, वहीं पार्टी के अंदर भी विरोध के स्वर सुनाई पड़ रहे हैं। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने मुतालिक को पार्टी में शामिल करने पर नाखुशी जाहिर की है। उन्होंने केंद्रीय नेतृत्व से मुतालिक की प्राथमिक सदस्यता रद्द करने की मांग की है।

इसके अलावा, केंद्रीय पार्टी नेतृत्व ने भी मुतालिक को पार्टी में शामिल किए जाने पर असंतोष व्यक्त किया है। उसका कहना है कि राज्य इकाई ने केंद्रीय नेतृत्व से परामर्श के बगैर ही यह फैसला लिया और उसने राज्य इकाई से उनकी सदस्यता रद्द करने को कहा है।     

इससे पहले, भाजपा की राज्य इकाई के प्रमुख प्रह्लाद जोशी, पूर्व मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार और पूर्व उप मुख्यमंत्री के एस ईश्वरप्पा ने यहां एक कार्यक्रम में मुतालिक का स्वागत किया।

मुतालिक ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि वह भाजपा में शामिल हुए हैं, क्योंकि उनका उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि नरेंद्र मोदी अगले प्रधानमंत्री बनें।

वह 2009 में उस समय चर्चा में आए थे, जब उनके दक्षिणपंथी संगठन के कार्यकर्ताओं ने मेंगलूर में एक पब में महिलाओं और पुरूषों पर हमला किया था। संगठन का आरोप था कि उन लोगों का आचरण 'अश्लील' था। उस घटना के बाद मुतालिक को गिरफ्तार किया गया था और उनका दावा था कि उनकी कार्रवाई 'महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर' थी। कर्नाटक के तत्कालीन मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा था कि राम सेना का भाजपा या संघ परिवार से कोई लेनादेना नहीं है।

POPULAR ON IBN7.IN