बीजेपी के लिए बुरी खबर, अगर ये सर्वे सही तो कर्नाटक में नहीं खिल सकेगा कमल

साल 2018 में होने जा रहे कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के लिए अच्छी खबर है। दरअसल यहां चुनाव से पहले कराए गए सर्वे की माने तो कांग्रेस राज्य में एक बार फिर सरकार बनाने की स्थिति में नजर आ रही है। सर्वे में भाजपा के दूसरे स्थान पर रहने की बात कही गई है। सर्वे ‘सी फोर’ ने कराया है। जिसमें 19 जुलाई से 10 अगस्त (2017) के बीच राज्यभर के लोगों की राय ली गई। सर्वे के अनुसार कांग्रेस इस बार 120-132 सीटें जीत सकती है। जो सूबे में एक बार फिर सरकार बनाने के लिए प्रर्याप्त हैं। हालांकि सर्वे में भाजपा को पिछले चुनाव की तुलना में इस बार अधिक सीटें मिलने की बात कही गई है। सर्वे की माने तो भाजपा को 60-72 सीटें जीत सकती है। जबकि जनता दल (एस) को 24-30 सीटें मिलने की बात कही गई है। सर्वे के अनुसार कांग्रेस को साल 2018 के विधानसभा चुनाव में संभावित 43 फीसदी वोट मिल सकते हैं जबकि भाजपा को 32 फीसदी वोट मिलने की बात कही गई है। वहीं जनता दल (एस) को 17 फीसदी वोट मिल सकते हैं। इंडिया टुडे के अनुसार सी फोर का दावा है कि उसने 165 विधानसभा क्षेत्रों में 24,676 लोगों से बात की। सर्वे में मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की ‘अन्ना भाग्य’ योजना को सबसे ज्यादा पसंद किया गया है। हालांकि राज्य में पीने के पानी की कमी, खराब सड़कें, बेरोजगारी आदि मुद्दों पर लोगों ने सवाल उठाए हैं।

कर्नाटक कांग्रेस चीफ ने कहा, ‘पार्टी आंतरिक सर्वे कर रही है, जहां लोगों से सरकार की कार्यशैली को लेकर सवाल पूछे जाएंगे। हालांकि हम जल्द ही एक प्रेस कॉन्फ्रेस करने वाले हैं जहां सूबे के लोगों को सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताया जाएगा।’ गौरतलब है कि भाजपा प्रमुख अमित शाह ने बीते सप्ताह सूबे में भाजपा सरकार बनाने का दावा किया था। शाह तब तीन दिवसीय कर्नाटक दौरे पर थे। उस दौरान उन्होंने कहा था, ‘मैं यहां राज्य में दोबारा भाजपा की सरकार बनाने के लिए आया हूं। मैं लोगों के मूड को भाप चुका हूं। वो हमें राज्य में दोबारा सरकार बनाने का मौका देना चाहते हैं। भाजपा 225 विधानसभा सीटों में 150 सीटें जीतने की कोशिश करेगी।’

POPULAR ON IBN7.IN