गौरी लंकेश हत्या: CCTV से मिल सकते हैं अहम सुराग, कर्नाटक सरकार ने SIT गठित की- 10 अहम बातें

बेंगलुरु / नई दिल्ली: वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश को बुधवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई. गौरी लंकेश की हत्या से देशभर में भारी आक्रोश है. कर्नाटक सरकार ने इस हत्याकांड की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन कर दिया है. पुलिस महानिरीक्षक (खुफिया) बीके सिंह जांच के लिए राज्य सरकार द्वारा गठित एसआईटी की अगुवाई करेंगे.
किसने की गौरी लंकेश की हत्या
  1. सीसीटीवी कैमरे से भी इस हत्याकांड के अहम सुराग मिल सकते हैं.  एक सीसीटीवी कैमरे में नजर आ रहा है कि हेलमेट पहने हुए एक व्यक्ति गौरी के मकान के गेट के अंदर जा रहा है और गोलीबारी कर रहा है.
  2. पुलिस का कहना है कि ये पेशेवर हत्यारों का काम हो सकता है.
  3. बेंगलुरु, दिल्ली समेत देश के कई अन्य शहरों में मीडिया जगत के लोगों और सिविल सोसायटी के सदस्यों ने इस हत्याकांड का कड़ा विरोध करते हुए प्रदर्शन किए. नेताओं ने भी पार्टी लाइन से हटते हुए इस घटना की निंदा की.
  4. एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने एक बयान में कहा, उनकी (गौरी लंकेश) की हत्या लोकतंत्र में असहमति के लिए अशुभ संकेत है और यह प्रेस की आजादी पर हमला है.
  5. गौरी लंकेश का बेंगलुरु में पुलिस सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. इस मौके पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, गृह मंत्री रामालिंगा रेड्डी, अभिनेता प्रकाश राज, रंगमंच की हस्तियां, कई पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद थे.
  6. दिल्ली में पत्रकारों  ने प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में विरोध प्रदर्शन किया. पत्रकारों ने गौरी के लिए इंसाफ की मांग की और असहमति की आवाजों को 'दबाने' की कोशिश कर रही 'ताकतों' से डटकर मुकाबला करने का आह्वान किया.
  7. पत्रकार की हत्या के मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कर्नाटक सरकार से वारदात के बारे में रिपोर्ट मांगी है.
  8. गृह सचिव राजीव गौबा ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह के निर्देश पर कर्नाटक सरकार से इस मामले की रिपोर्ट तलब की है.
  9. पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की राजनीतिक दलों ने भी कड़ी निंदा की. कांग्रेस ने इस मामले को लेकर बीजेपी को घेरा तो दूसरी तरफ केंद्र सरकार ने इस घटना के तार बीजेपी या उसके लोगों से कथित तौर पर जुड़े होने के आरोपों को 'गैर-जिम्मेदाराना, निराधार और फर्जी' करार दिया.
  10. सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने भी गौरी लंकेश की हत्या की निंदा की और उम्मीद जताई कि इस मामले में त्वरित जांच होगी और उन्हें न्याय मिलेगा.

POPULAR ON IBN7.IN