भीड़ ने बच्चा चोर समझकर छह लोगों को पीट-पीटकर मार डाला

बच्चे चुराने वाला गैंग होने की अफवाह के चलते झारखंड में भीड़ ने छह लोगों को पीट-पीटकर मार डाला है. भीड़ के गुस्से का आलम यह था कि पिटते हुए लोगों को बचाने पहुंचे पुलिसकर्मियों पर भी हमला किया गया, और पुलिस वाले कम तादाद में होने की वजह से भीड़ के सामने लाचार दिखाई दिए.

पूर्वी सिंहभूम जिले में तीन व्यक्तियों - विकास कुमार वर्मा, गौतम कुमार वर्मा तथा गणगेश गुप्ता - को घसीटकर घर से बाहर निकाला गया, और इतनी बुरी तरह पीटा गया कि उनकी मौत हो गई. इस दौरान एक महिला पर भी बहुत बेरहमी से हमला किया गया, क्योंकि गांव वालों का आरोप था कि ये लोग बच्चों की चोरी किया करते थे.

पुलिस का कहना है कि ये अफवाहें काफी समय से इस इलाके के साथ-साथ पड़ोसी सरायकेला जिले तक फैली हुई थीं, जहां इसी तरह भीड़ ने तीन पशु व्यापारियों नईम, सेराज खान और सज्जू को पीट-पीटकर मार डाला.

दोनों ही मामलों में जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची, भीड़ के सामने उनकी तादाद बेहद कम साबित हुई. बताया गया है कि गांव वालों ने पुलिस वालों पर भी हमला कर दिया था, जिससे उनमें से कुछ ज़ख्मी हो गए.

पुलिस के अनुसार, इस क्षेत्र के पांच-छह गांवों में बच्चों को अगवा किए जाने के आरोप पिछले कुछ समय से लगाए जा रहे थे. इन घटनाओं के दौरान आसपास से गुज़र रही कारों तथा पुलिस की जीपों को भी निशाना बनाया गया, और गांव वालों ने उनमें आग लगा दी.

POPULAR ON IBN7.IN