झारखंड के मुख्यमंत्री पर जूते फेंके जाने के बाद अफसरों का तबादला

रांची:  झारखंड सरकार ने एक जिले के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक को स्थानान्तरित करने का फसला किया है, जहां गत एक जनवरी को मुख्यमंत्री रघुवर दास पर जूते फेंके गए थे। एक अधिकारी ने यह जानकारी बुधवार को दी। सरायकेला-खरसावा में नए साल के पहले दिन दास पर जूता फेंका गया था। जिले में उन्हें आदिवासियों के विरोध का सामना करना पड़ा था।

अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, "सरायकेला-खरसावाके उपायुक्त श्रीनिवासन और पुलिस अधीक्षक संजीव का तबादला कर दिया गया है। रमेश घोपाल नए उपायुक्त और राकेश बंसल नए पुलिस अधीक्षक होंगे।"

तबादले को प्रभावी बनाने के लिए राज्य सरकार ने चुनाव आयोग से अनुमति मांगी है।

अधिकारी ने कहा, "यह उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक की सबसे बड़ी गलती थी। जब मुख्यमंत्री स्थल छोड़ रहे थे तब उन्हें काले झंडे दिखाए गए थे और उनकी तरफ जूते फेंके गए थे। सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाने चाहिए थे।"

जिला प्रशासन ने इस मामले में 2 जनवरी को 9 ज्ञात और 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की थी।

पुलिस फायरिंग में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए गत 1 जनवरी को खरसावा के शहीद पार्क में बड़ी संख्या में जनजाति समुदाय के लोग एकत्रित हुए थे।

कार्यक्रम में दास ने भी भाग लिया था और मृतकों को श्रद्धांजलि दी थी। पूर्व नियोजित विरोध प्रदर्शन की आशंका के मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे।

जैसे ही दास कार्यक्रम स्थल छोड़कर जाने लगे, उनकी तरफ कई जूते फेंके गए थे। मुख्यमंत्री को एक भी जूता छू नहीं पाया था।

जब दास कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे तो उन्हें काले झंडे दिखाए गए थे। लोगों ने उनके खिलाफ 'वापस जाओ', 'वापस जाओ' के नारे लगाने शुरू कर दिए थे।

POPULAR ON IBN7.IN