जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा में मुठभेड़, दो आतंकवादी ढेर

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में बांदीपोरा के हाजिन में सुरक्षाबलों ने बुधवार सुबह लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया. इस एनकाउंटर में  वायुसेना के दो जवान भी शहीद हो गए हैं. वायुसेना के गरुड़ कमांडोज़ को ऑपरेशनल अनुभव के लिए कश्मीर में सेना के साथ लगाया गया था.


दरअसल सुरक्षा बलों को हाजिन के परिबल गांव में लश्कर-ए-तैयबा के आठ आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी, जिसके आधार पर इलाके में खोजबीन शुरू की गई. सेना के सभी जवान उस समय आतंकवादियों की फायरिंग की चपेट में आए जब एनकाउंटर शुरू भी नहीं हुआ था. आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर ताबड़तोड़ फायरिंग की जिसमें कुछ जवानों को गोलियां लगी. बाद में इनमें से दो जवानों ने दम तोड़ दिया. घायल जवानों को श्रीनगर में सेना के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जिनमें से एक की हालात गंभीर बताई जा रही है.

आपको बता दें कि यह वही इलाका है जहां 27 सितम्बर को आतंकवादियों ने छुट्टी पर घर आए बीएसएफ जवान रमीज़ अहमद पारे के घर में घुसकर उसकी हत्या कर दी थी. इसके बाद से ही यहां ख़ास तौर पर आतंकियों की तलाश के लिए कई अभियान चलाए गए थे.

इससे पहले जम्मू-कश्मीर के शोपियां में एक मुठभेड़ में प्रमुख आतंकी जाहिद सहित हिजबुल मुजाहिद्दीन के तीन आतंकियों को मार गिराया था. वहीं बारामुला जिले में जैश-ए-मोहम्मद का एक कमांडर सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया था. सुरक्षाबलों ने आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर उन्होंने बारामुला जिले के लादुरा इलाके को चारों ओर से घेर लिया और तलाशी अभियान चलाया था.
उन्होंने बताया कि एक तलाशी दल पर गोली चलायी गईं, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. जवाबी कार्रवाई में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी को मार गिराया गया. उसकी पहचान खलिद उर्फ शाहिद शौकत के रूप में हुई.पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि मारा गया आतंकी इस महीने की शुरुआत में श्रीनगर हवाईअड्डे के निकट बीएसएफ के एक शिविर और पिछले महीने पुलवामा में जिला पुलिस लाइन पर हुए हमलों का मास्टरमाइंड था. इसी बीच पुलिस ने बताया कि शोपियां जिले के केल्लर इलाके में सुरक्षा बलों के साथ एक अन्य मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिद्दीन के तीन आतंकी मार गिराए थे.

POPULAR ON IBN7.IN