कश्मीर हिंसा में पीड़ित परिवारों को 5-5 लाख रुपये का मुआवजा

 

 

जम्मू:  कश्मीर घाटी में पिछले साल से चली आ रही अशांति के मद्देनजदर सुरक्षाबलों द्वारा की गई गोलीबारी में जान गंवाने वाले लोगों को मुआवजा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को कहा कि प्रत्येक पीड़ित परिवार को पांच लाख रुपये की राहत राशि दी जाएगी।

महबूबा ने विधानसभा में इसका ऐलान करते हुए कहा कि सुरक्षाबलों को अत्यधिक बल का प्रयोग करने का दोषी पाए जाने पर दंडित किया जाएगा।

गौतलब है कि आठ जुलाई 2016 को हिजबुल कमांडर बुरहान वानी को मार गिराए जाने के बाद से घाटी में हिंसा व्याप्त है। इस हिंसा में 100 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

मुख्यमंत्री ने सुरक्षाबलों की पैलेट गनों से दृष्टि गंवा चुके लोगों के लिए सरकारी नौकरियां देने का भी ऐलान किया है।

उन्होंने कहा कि घाटी में हिंसा के दौरान कॉलेज लेक्चरर और एटीएम सुरक्षाकर्मी की मौत की जांच की जाएगी और यदि इसमें सुरक्षाबलों की मौजूदगी का पता चला तो उन्हें दंड़ित किया जाएगा।

गौरतलब है कि श्रीनगर में एटीएम सुरक्षाकर्मी की हत्या और पुलवामा जिले में लेक्चरर की मौत के लिए सुरक्षाबलों को जिम्मेदार ठहराया गया है।

  • Agency: IANS