गुलजार ने किया एलआईएफएफ का उद्घाटन, उमर रहे नदारद

लेह: प्रख्यात गीतकार-लेखक-फिल्मकार गुलजार ने शुक्रवार को यहां जम्मू एवं कश्मीर में अन्य फिल्मी हस्तियों, गण्यमान्य व्यक्तियों और अधिकारियों की मौजूदगी में लद्दाख अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (एलआईएफएफ) के दूसरे संस्करण का दीप प्रज्जवलित कर उद्घाटन किया। हालांकि, इस दौरान जम्मू एवं कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला उपस्थित नहीं हो सके। इस दौरान जम्मू एवं कश्मीर शहरी विकास मंत्री नवांग रिगजिन जोरा, लेह के मुख्य कार्यकारी पार्षद रिगजिन सपलबार और भारत में अफगानिस्तान के राजदूत अब्दाली भी उपस्थित थे। वहीं, एलआईएफएफ के निर्णायक मंडल में शामिल अपर्णा सेन, विशाल भारद्वाज, रेखा भारद्वाज, फिल्मकार राकेश ओमप्रकाश मेहरा और राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता मराठी अभिनेत्री ऊषा जाधव सहित अन्य लोग भी मौजूद रहे।

जोरा ने अपने भाषण में कहा, "हमारे मुख्यमंत्री को सुबह में यहां होना था, लेकिन संगीत कार्यक्रम (जुबीन मेहता का हाल में हुआ संगीत कार्यक्रम) से हुई क्षति की चिंता के चलते वह नहीं आ सके। यहां कुछ जिलों में कर्फ्यू है।"

उद्घाटन समारोह लेह में स्थित सिंधु संस्कृति ऑडीटोरियम में आयोजित हुआ था।

मौके पर गुलजार ने कहा, "मैं एक ऐसी खूबसूरत वादी में एक ऐसे खूबसूरत गंतव्य और खूबसूरत लोगों के बीच खुश हूं।"

एलआईएफएफ वर्ष 2012 में शुरू किया गया था। तीन दिवसीय महोत्सव में करीब 120 लघु फिल्में, फीचर फिल्में और वृत्तचित्र फिल्में प्रदर्शित की जाएंगी। महोत्सव में आकर्षण का मुख्य केंद्र टेरी मैकलुहान की अंतर्राष्ट्रीय वृत्तचित्र फिल्म 'फ्रंटीयर गांधी' का ग्रीन कार्पेट प्रीमियर है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN