जम्मू एवं कश्मीर को 8,000 करोड़ रुपये देगी केंद्र सरकार

लेह: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को जम्मू एवं कश्मीर में सड़क निर्माण के लिए 8,000 करोड़ रुपये देने का वादा किया और भ्रष्टाचार को खत्म करने का संकल्प भी लिया। लेह के पोलो मैदान में आयोजित रैली में पारंपरिक लद्दाखी परिधान में पहुंचे मोदी ने यहां जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार लेह एवं लद्दाख क्षेत्र के विकास के लिए प्रतिबद्ध है।

लद्दाख क्षेत्र में 45 मेगावाट की निमू-बाजगो पनबिजली परियोजना का उद्घाटन करने के बाद मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, "लद्दाख क्षेत्र के पास 'प्रकाश, पर्यावरण तथा पर्यटन' है, जो न केवल जम्मू एवं कश्मीर, बल्कि पूरे देश के लिए है।"

उन्होंने कहा, "यदि इन तीनों का इस्तेमाल सही तरीके से हुआ तो इससे पूरा देश लाभान्वित होगा.. विकास निश्चित रूप से ऐसी होनी चाहिए कि इससे आम लोगों के जीवन पर सकारात्मक असर पड़े।"

मोदी ने राज्य सरकार द्वारा केंद्र से लिए गए कर्ज पर 60 करोड़ रुपये के ब्याज में छूट देने की घोषणा भी की।

उन्होंने कहा, "मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में हम जल्द ही जम्मू एवं कश्मीर में चार बड़ी सड़कों के निर्माण के लिए 8,000 करोड़ रुपये की महत्वाकांक्षी सड़क संपर्क परियोजना को मंजूरी देंगे।"

उन्होंने कहा, "यह राशि राज्य के लिए पहले से मंजूर की जा चुकी सड़क निर्माण परियोजनाओं के अतिरिक्त होगी।" प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि भ्रष्टाचार, न कि धन की कमी के कारण देश बर्बाद हो रहा था।

उन्होंने कहा, "लद्दाख की पर्वतीय ऊंचाइयों से मैं आज यह ऐलान करता हूं कि हम उन सभी दलों के साथ मिलकर देश से भ्रष्टाचार का खात्मा करेंगे, जो भ्रष्टाचार उन्मूलन के लिए हमारे साथ काम करना चाहते हैं।"

मोदी ने कहा कि लेह उनकी सरकार की ओर से सौर ऊर्जा के लिए की गई पहलों के केंद्र में है।

करीब 1,700 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली 330 किलोमीटर लंबी लेह-श्रीनगर ट्रांसमिशन लाइन की आधारशिला रखने के बाद मोदी ने कहा, "मैं यहां के लोगों की समस्याओं से परिचित हूं और इससे भी महत्वपूर्ण यह है कि मैं यहां की ताकत को पहचानता हूं.. हमने लेह को हमारी सौर ऊर्जा से संबंधित पहलों के केंद्र में रखा है।"

उन्होंने कहा कि लोगों को अब अधिक समय तक उधार से ली गई बिजली पर निर्भर नहीं रहना होगा।

मोदी ने कहा, "यह जम्मू एवं कश्मीर के लोगों का प्यार है, जो बार-बार मुझे यहां ले आता है। पहले जब मैं लेह आता था तो यहां जो लोग मुझे जानते थे, वे मुझसे गोभी और आलू लाने के लिए बोलते थे। मेरा यकीन कीजिये, मैं जब भी यहां आता था, मेरा सामान इन चीजों से भरा होता था।"

उन्होंने कहा, "मैं श्रीनगर और करगिल में कुछ वक्त बिताऊंगा। राज्य के लिए प्रेम मुझे मेरे मौजूदा पद पर रहते हुए यहां के लोगों की समृद्धि एवं बेहतरी के लिए हरसंभव कदम उठाने के लिए प्रेरित करता है।"

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN