नेकां कार्यकर्ता मौत की जांच रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग

जम्मू एवं कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी (जेकेएनपीपी) ने शनिवार को न्यामूर्ति बेदी आयोग की रिपोर्ट विधानसभा में पेश करने की मांग की। यह जांच रिपोर्ट भ्रष्टाचार के आरोप को लेकर 2011 में मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के कार्यालय में तलब किए गए नेशनल कान्फ्रेंस कार्यकर्ता की मौत से संबंधित है। जेकेएनपीपी के अध्यक्ष एवं विधायक बलवंत सिंह मनकोटिया ने विधानसभा में शून्यकाल के दौरान यह मामला उठाया और कहा, "एक सदस्यीय बेदी आयोग की रिपोर्ट सार्वजनिक की जानी चाहिए और उसे विधानसभा में पेश किया जाना चाहिए।"

सैयद मोहम्मद यूसुफ नाम के एक नेशनल कान्फ्रेंस कार्यकर्ता की संदेहास्पद परिस्थितियों में हुई मौत की जांच के लिए नवंबर 2011 में न्यायमूर्ति एच.एस. बेदी आयोग का गठन किया गया था।

मनकोटिया ने कहा कि आयोग ने दिसंबर 2012 में ही अपनी रिपोर्ट सौंप दी, लेकिन उसे अभी तक सार्वजनिक नहीं किया गया है।

यूसुफ पर अपनी ही पार्टी के दो कार्यकर्ताओं से 1.18 करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का आरोप था। अब्दुल्ला ने तीनों कार्यकर्ताओं को अपने कैंप कार्यालय में बुलवाया और यूसुफ को राज्य पुलिस की अपराध शाखा के हवाले कर दिया। इसके अगले ही दिन पुलिस हिरासत में यूसुफ की मौत हो गई।

यूसुफ के परिवार के लोगों ने मुख्यमंत्री कार्यालय में प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया था।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN