शिमला व आसपास के इलाके बर्फ की चादर में लिपटे

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला और उसके आसपास के पर्यटन स्थल सोमवार को बर्फ से ढक गए। 

मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि शिमला जिले के ऊपरी कस्बे सड़कों पर बिछी बर्फ के कारण अन्य इलाकों से कट गए हैं। 

पहाड़ों की रानी शिमला में यह मौसम की दूसरी महत्वपूर्ण बर्फबारी थी। 

बर्फबारी की खबर फैलते ही पर्यटकों ने शिमला, कुफरी, माशोबरा और नारकंडा पहुंचना शुरू कर दिया है। 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि गुलाबा, सोलंग और कोठी और आसपास की पहाड़ियों पर सोमवार सुबह से बर्फबारी हो रही है।

शिमला में न्यूनतम तापमान 1.1 डिग्री सेल्सियस, जबकि किन्नौर जिले के कल्पा में तापमान शून्य से एक डिग्री कम दर्ज किया गया। 

अधिकारी के अनुसार, "लाहौल-स्पीति के ऊंचाई वाले इलाकों, किन्नौर, कुल्लू, शिमला, सिरमौर और चंबा जिले में सोमवार सुबह से भारी बर्फबारी हो रही है जबकि मध्य और निचले पहाड़ी इलाकों में बारिश हो रही है।" 

कांगड़ा घाटी में भव्य धौलाधार पर्वतमाला बर्फ की चादर से ढक गई है।

राज्य के निचले इलाकों जैसे धर्मशाला, पालमपुर, सोलन, नहान, बिलासपुर, ऊना, हमीरपुर और मंडी में बारिश हुई है, जिससे तापमान में काफी गिरावट आई है। 

एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि पूरा किन्नौर जिला और शिमला जिले के नारकंडा, जुब्बल, कोटखाई, कुमारसैन, खड़ापठार, रोहड़ू और चौपाल जैसे कस्बे भी भारी बर्फबारी के कारण अन्य कस्बों से कट गए हैं।  

मौसम विभाग ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ मंगलवार तक सक्रिय रहेगा जिससे और अधिक बारिश और बर्फबारी की संभावना है। 

POPULAR ON IBN7.IN