कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी से पूछा, मोदीजी, जय शाह- 'जादा' खा गया. आप चौकीदार थे या भागीदार?

 बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह  की कंपनी को लेकर एक वेबसाइट की रिपोर्ट में दावा किया गया कि मात्र 50000 रुपये के रुपये की कंपनी ने एक साल में 80,00,00,000 रुपये की बन गई. इस रिपोर्ट के बाद जहां बीजेपी वेबसाइट पर हमलावर है और कह रही है कि शाह के बेटे वेबसाइट पर क्रिमिनल डिफेमेशन का केस करेंगे वहीं कांग्रेस पार्टी बीजेपी पर हमला वर है. कांग्रेस पार्टी अब कई मंचों से सीधे बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं को निशाना बना रही है. 

राहुल गांधी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल @OfficeofRG से एक ट्वीट किया गया है जिसमें सीधा पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला किया गया है. इस ट्वीट में कहा गया है, मोदीजी, जय शाह- 'जादा'  खा गया. आप चौकीदार थे या भागीदार? कुछ तो बोलिए.
इस ट्वीट के जरिए राहुल गांधी ने इस पूरे मामले में पीएम मोदी की अभी तक की चुप्पी पर सवाल उठाया है. इतना ही नहीं राहुल गांधी ने पीएम मोदी के शब्द चौकीदार पर भी प्रहार किया है. इस शब्द का प्रयोग नरेंद्र मोदी ने 2014 के चुनाव प्रचार के दौरान किया है. 

विपक्षी दलों ने राजग सरकार के सत्ता में आने के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी के कारोबार में हुई बेतहाशा 'कथित वृद्धि' से जुड़ी मीडिया में चल रही खबरों को लेकर जांच की मांग की है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय ने इस खबर को 'झूठा, अपमानजनक और मानहानिपूर्ण' करार देते हुए आरोप को खारिज कर दिया.


विपक्षी पार्टियों ने एक वेबसाइट में छपी खबर के बाद यह मांग की. खबर में रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) के आंकड़े को उद्धत करते हुए कहा गया है कि जय शाह के मालिकाना हक वाले 'टेंपल इंटरप्राइज' की संपत्ति में वर्ष 2015-16 के दौरान 16,000 गुना और उससे पहले के साल से करीब 80 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ. सिब्बल ने आरओसी फाइलिंग का हवाला देते हुए आरोप लगाया कि कुसुम फिनसर्व एलएलपी को मध्य प्रदेश में पवन ऊर्जा क्षेत्र में एक ठेका मिला, जबकि यह कंपनी स्टॉक ट्रेडिंग का काम करती है. इस कंपनी का 60 प्रतिशत हिस्सा जय के पास है.

POPULAR ON IBN7.IN