हिमाचल में भूस्खलन से चार की मौत

हिमाचल प्रदेश के दो अलग-अलग हिस्सों में भूस्खलन के कारण शुक्रवार को चार लोगों की मौत हो गई। पिछले कुछ समय से राज्य में लगातार मध्यम से लेकर तेज बारिश हो रही है। लगातार बारिश के कारण कई इलाकों में भूस्खलन से राज्य के मार्गों को भारी नुकसान पहुंचा है और सैकड़ों लोग फंस गए हैं।

एक पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, "गामब्रोला (बिलासपुर जिले में) के पास बड़े पत्थरों के कार पर गिरने के कारण तीन लोगों की मौत हो गई।"

उन्होंने कहा कि दो यात्रियों को गंभीर चोटें आईं हैं, उन्हें बिलासपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस ने कहा कि सोलन जिले के रोहरू में एक घर पर बड़े पत्थर के गिरने के कारण एक बच्चे की मौत हो गई।

हादसे के वक्त बच्चा घर में अकेले सो रहा था।

मंडी जिले में गुरुवार रात भारी बारिश के कारण बघिनाला गांव में दुकानों को काफी नुकसान पहुंचा लेकिन किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

सोलन जिले के आर्की शहर में सुबह 8.30 तक राज्य में सबसे ज्यादा 67 मिमी तक वर्षा दर्ज की गई, जबकि पाओंटा साहिब में 64 मिमी, धर्मशाला में 58 मिमी, पालमपुर में 53 मिमी और शिमला में 29 मिमी वर्षा दर्ज की गई।

मौसम कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा, "पिछले 24 घंटों में राज्य के ज्यादातर हिस्सों में बारिश हुई है। कांगड़ा और सिरमौर जिलों में भारी बारिश हुई है।"

शिमला, सिरमौर, मंडी, कांगड़ा और कुल्लू जिले के अंदरूनी हिस्सों में सड़कों के बीच संपर्क टूटने की खबरें हैं जिसके कारण गाड़ियों की आवाजाही बाधित हुई।

एक सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि सतलज, व्यास, यमुना व इनकी सहायक नदियों में उफान के कारण किन्नौर, शिमला, कुल्लू, मंडी, बिलासपुर और सिरमौर जिलों में बाढ़ आई हुई है।

मौसम विभाग के अनुसार, राज्य के कुछ स्थानों में शनिवार तक भारी बारिश होने के आसार हैं।

POPULAR ON IBN7.IN