कश्मीर में हिजबुल कमांडर यासीन इट्टू 'गजनवी' समेत तीन आतंकी मुठभेड़ में ढेर

दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में शनिवार रात शुरू हुई एक मुठभेड़ 20 घंटे बाद जाकर खत्म हुई. सुरक्षा बलों ने इस मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के एक टॉप कमांडर यासीन इट्टू उर्फ 'गजनवी' सहित तीन आतंकियों को मार गिराया. मुठभेड़ में दो जवान भी शहीद हो गए. सुरक्षाबलों ने इसी साल मई में जिन 12 खूंखार आतंकियों की लिस्ट जारी की थी, उसमें यासीन इट्टू का भी नाम शामिल था.

आतंकियों के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ शोपियां के जैनापुरा के अवनीरा में शनिवार शाम को शुरू हुई. सुरक्षाबलों को पक्की सूचना मिली थी कि यहां तीन से चार आतंकी छुपे हुए थे. आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस, सेना तथा सीआरपीएफ के विशेष अभियान समूह ने शनिवार रात घेराबंदी कर और तलाशी अभियान शुरू किया था.

तलाशी के दौरान आतंकियों ने उन पर गोली चला दी, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने भी फायरिंग की. पूरी रात रुक-रुककर गोलीबारी चलती रही और सुबह अभियान पूरे चरम पर पहुंच गया. वहां घिरे तीनों आतंकियों को मार गिराया गया.

पुलिस के अनुसार मध्य कश्मीर के बडगाम जिले का रहने वाला इट्टू हिजबुल मुजाहिदीन से लंबे समय से जुड़ा हुआ था. वह पिछले साल आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में शुरू हुई अशांति को बनाए रखने में शामिल था. उसने संगठन में कई लोगों की भर्ती भी कराई थी.

मुठभेड़ में घायल तीन अन्य जवानों का इलाज चल रहा है. शहीद जवान इलायाराजा पी तमिलनाडु के और और गवई सुमेध वामन महाराष्ट्र के रहने वाले थे.

POPULAR ON IBN7.IN