हिमाचल की मियार घाटी में बादल फटने से सड़क और पुल बहे

केलांग (हिमाचल प्रदेश): हिमाचल प्रदेश के लाहौल एवं स्पीति जिले में बादल फटने से 100 से ज्यादा मवेशी, एक पुल व एक सड़क का 150 मीटर लंबा हिस्सा बह गए। वैसे घटना में किसी इंसान के मारे जाने की खबर नहीं है। उप-आयुक्त बी.एस. ठाकुर ने आईएएनएस को बताया कि यहां से तकरीबन 55 किलोमीटर दूर मियार घाटी के चांगुत गांव में गुरुवार रात बादल फटने की घटना हुई।

उन्होंने बताया, "बाढ़ के पानी में कृषि भूमि और सड़कों को नुकसान पहुंचा है।"

विधायक रवि ठाकुर ने कहा कि सड़क मार्ग प्रभावित होने से घाटी के कई गांवों से संपर्क कट गया है।

उन्होंने कहा कि मटर उत्पादक सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं क्योंकि उनकी फसल की ढुलाई नहीं हो सकी थी।

ठाकुर ने कहा, "हमने कामकाज दोबारा शुरू करने व प्रभावित परिवारों को मुआवजा देने के लिए राज्य सरकार से पांच करोड़ रुपये की त्वरित राहत दिए जाने की मांग की है।"

मियार घाटी को मटर व आलू की खेती के लिए जाना जाता है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

POPULAR ON IBN7.IN