हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने डेरा सच्चा सौदा को खेलों के लिए दिया 50 लाख रुपये का दान

सिरसा: हरियाणा के स्वास्थ्य एवं खेल मंत्री अनिल विज ने ग्रामीण खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए एक धार्मिक संप्रदाय को अपने विवेकाधीन कोष से 50 लाख रुपये का दान दिया है. इसे लेकर कांग्रेस ने उन पर निशाना साधा है.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने डेरा सच्चा सौदा को 50 लाख रुपये दान देने की गई घोषणा पर प्रतिक्रिया जताते हुए कहा, 'मैंने इस खबर के सभी पहलू नहीं देखे हैं. सभी राजनीतिक दल इसके समर्थन में हैं कि खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए धनराशि दान की जानी चाहिए. लेकिन अनिल विज को लोगों के साथ अपने जुड़ाव को लेकर अपने निर्णय पर विचार करना चाहिए.'

सुरजेवाला ने कहा, 'वह एक जिम्मेदार राजनीति एवं संवैधानिक पद पर हैं. उन्हें अपने व्यवहार के बारे में निर्णय करना चाहिए. यदि वह कोई निर्णय नहीं करते तो हरियाणा के लोगों को कार्य करना होगा.'

विज ने विरोधियों के आरोप के बाद कहा, विपक्षी दलों का काम है विरोध करना. मैं इस बारे में क्या कह सकता हूं.

 
 


बता दें कि विज ने इस दान की घोषणा शनिवार को सिरसा जिले में संपन्न डेरा सच्चा सौदा में एक खेल कार्यक्रम के बाद की. इस मौके पर डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह भी मौजूद थे. अनिल विज ने इस कार्यक्रम में कहा, 'यह बहुत ही अच्छी बात है. धर्म के साथ शिक्षा और खेल भी हैं. इसका मतलब है कि वे एक पूर्ण मनुष्य तैयार करने का प्रयास कर रहे हैं.'

उन्होंने कहा, 'वह खेलों को प्रोत्साहित कर रहे हैं. चूंकि स्कूल भी खेलों को प्रोत्साहित कर रहे हैं, मैं 50 लाख रुपये अपने विवेकाधीन कोष से दान देना चाहूंगा.' विज ने कहा, 'डेरा सच्चा सौदा लंबे समय से खेलों को प्रोत्साहित कर रहा है. अब बीजेपी सरकार खेलों से संबंधित सभी गतिविधियों को प्रोत्साहित करेगी. इसके लिए 20 ओलिंपिक नर्सरी बनाई जाएंगी.' विज ने यह भी उम्मीद जताई कि अगले ओलिंपिक में इस संस्थान से लोग ओलिंपिक मेडल लेकर आएंगे.

बता दें कि डेरा सच्चा सौदा में खेले जाने वाले खेल इसके प्रमुख द्वारा डिजाइन किए गए हैं और इन्हें राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नहीं खेला जाता है.विज इससे रियो ओलिंपिक के दौरान विवादों में आ गए थे जब वे अधिकारियों और विधायकों के दल के साथ हरियाणा के खिलाड़ियों के उत्साहवर्धन के लिए वहां पहुंच गए थे. इस दौरे में करदाताओं का करीब एक करोड़ रुपया चला गया था.

खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए जनता दल युनाइटेड के नेता अनवर अली ने कहा कि जनता के पैसे की जहां जरूरत है वहां खर्च नहीं किया जा रहा है. जरूरतमंदों की मदद नहीं की जा रही है. एनसीपी नेता तारिक अनवर ने  कहा कि यह पैसा किसी खिलाड़ी को दिया गया होता तो ज्यादा अच्छा होता.

उल्लेखनीय है कि पिछले विधानसभा चुनाव में देश के सबसे पैसे वाले संगठन में एक डेरा सच्चा सौदा ने बीजेपी के समर्थन का ऐलान किया था. कहा जाता है कि राज्य में इस घोषणा ने पहली बार सत्ता में पहुंचने में बीजेपी की काफी मदद की थी.

POPULAR ON IBN7.IN