हरियाणा में जाट आंदोलन आज से फिर शुरू, 15 गांवों में करेंगे धरना प्रदर्शन

चंडीगढ़: जाट समुदाय के नेताओं के एक वर्ग ने आरक्षण के लिए आज (रविवार) से फिर से विरोध-प्रदर्शन शुरू करने की घोषणा की है। इसके मद्देनजर हरियाणा सरकार और राज्य पुलिस खुद को स्थिति से निपटने के लिए तैयार कर रही है।

कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिसकर्मियों एवं अर्धसैनिक बलों को सोनीपत, रोहतक, झज्जर, जींद, पानीपत और कैथल जैसे संवेदनशील जिलों में तैनात कर दिया गया है।

सोनीपत जिले में आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लगा दी गई है। इसमें पांच या उससे अधिक लोगों के किसी जगह जमा होने पर रोक है। पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय ने जाट एवं अन्य समुदाय के लिए आरक्षण कोटा की अधिसूचना पर रोक लगा दी है। इससे उत्तरी राज्यों जिनमें पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू एवं कश्मीर और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ के लोग इस बात से चिंतित हैं कि आंदोलन के हरियाणा में फिर सड़क और रेल मार्ग जाम हो सकता है।

आल इंडिया जाट आरक्षण संघर्ष समिति (एआईजेएएसएस) ने फिर से आंदोलन शुरू करने का आह्वान किया है। जाट समुदाय के कुछ अन्य वर्गों और उनके नेताओं ने इस आंदोलन से खुद को अलग कर लिया है। एआईजेएएसएस के नेता हवा सिंह सांगवान ने आश्वस्त किया है कि आंदोलन शांतिपूर्ण रहेगा।

POPULAR ON IBN7.IN