'उदय' योजना से हरियाणा को 14,160 करोड़ रुपये का फायदा

नई दिल्ली: डिस्कॉम के संचालन और वित्तीय स्थिति में सुधार के लिए भारत सरकार, हरियाणा राज्य और हरियाणा की डिस्कॉम (उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम लिमिटेड और दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम लिमिटेड) ने शुक्रवार को यहां उदय योजना-'उज्ज्वल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना' के अंतर्गत सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए। उदय में शामिल होने से हरियाणा को कुल मिलाकर तकरीबन 14,160 करोड़ रुपये की बचत होगी। इस योजना में शामिल होने से वित्तीय स्थिति में सुधार की अवधि के दौरान ब्याज लागत में कमी, एटीएंडसी तथा पारेषण हानियों में कमी, ऊर्जा के कुशल उपयोग, कोयला क्षेत्र में लागू सुधारों इत्यादि की बदौलत इस हद तक बचत संभव होगी।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और केन्द्रीय विद्युत, कोयला, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पीयूष गोयल की उपस्थिति में इस सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए गए।

हरियाणा उदय योजना के तहत सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करने वाला आठवां राज्य है। हरियाणा के इसमें शामिल होने के साथ ही डिस्कॉम पर संयुक्त ऋण बोझ अब तकरीबन 1.94 लाख करोड़ रुपये हो गया है, जिसे इन राज्यों के संदर्भ में पुनर्गठित किया जाएगा। यह राशि 30 सितम्बर, 2015 तक डिस्कॉम पर बकाया 4.3 लाख करोड़ रुपये के कुल ऋण बोझ का लगभग 45 प्रतिशत है।

हरियाणा सरकार ने उदय के तहत सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करके और डिस्कॉम के कर्जो का भार वहन करने पर भी सहमति जताकर डिस्कॉम की आर्थिक स्थिति को सुधारने की दिशा में बड़ा कदम उठाया है। 

हरियाणा सरकार डिस्कॉम पर कुल कर्ज के 25,950 करोड़ रुपये का बोझ अपने ऊपर लेगी, जो 30 सितम्बर, 2015 तक डिस्कॉम पर बकाया कुल 34,600 करोड़ रुपये के कर्ज बोझ का 75 प्रतिशत है। इस योजना में 8,650 करोड़ रुपये के शेष कर्ज का या तो पुनर्निर्धारण करने या इसे औसत मौजूदा ब्याज दर से लगभग 3 प्रतिशत कम कूपन दरों पर राज्य की गारंटी वाले डिस्कॉम बॉण्ड के रूप में जारी करने का प्रावधान है। डिस्कॉम पर कर्ज के पुनर्गठन के परिणामस्वरूप ब्याज लागत में राज्य की सालाना बचत करीब 1040 करोड़ रुपये होगी।

देश भर के सभी गांवों के विद्युतीकरण और सभी को 24 घंटे बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए डिस्कॉम को वित्तीय दृष्टि से आत्मनिर्भर बनाना, उनमें बेहतर परिचालन सुनिश्चित करना, किफायती दरों पर पर्याप्त बिजली आपूर्ति करने में उन्हें सक्षम बनाना उदय के प्रमुख उद्देश्य हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस। 

 

POPULAR ON IBN7.IN