हरियाणा में जाटों के आरक्षण के लिए आगामी विधानसभा सत्र में पास किया जाएगा बिल

झज्जर: सरकार जाट समुदाय को आरक्षण देने के लिए तैयार हो गई है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह के घर बैठक हुई, जिसमें यह फैसला लिया गया। इस बैठक में बीजेपी के कई जाट नेता और खाप पंचायतों के प्रतिनिधि मौजूद थे। 
 बैठक में सरकार ने भरोसा दिलाया कि हरियाणा में जाट समुदाय को स्पेशल बैकवर्ड क्लास के तहत आरक्षण दिया जाएगा और इस सिलसिले में हरियाणा विधानसभा में बजट सत्र के दौरान बिल पास किया जाएगा।
 
केंद्र में जाट समुदाय को ओबीसी के तहत आरक्षण कैसे दिया जाए इस पर एक उच्च स्तरीय कमेटी विचार करेगी। बीजेपी के हरियाणा प्रभारी अनिल जैन ने बैठक से बाहर आने के बाद यह जानकारी दी। इसके बाद जाट नेता जयपाल सिंह सांगवान ने कहा कि जाट समुदाय सरकार की पहल से संतुष्ट है।
 
हरियाणा में जाट आरक्षण को लेकर हिंसा में अब तक दस लोगों की मौत हो गई और करीब 150 घायल हो गए हैं। जाट आंदोलन की वजह से रेल और सड़क यातायात पूरी तरह से ठप है। 736 ट्रेनें रद्द हो चुकी हैं और 105 ट्रेनों के रास्ते बदल दिए गए हैं। मुंबई से चलने वाली राजधानी और संपर्क क्रांति एक्स भी रद्द कर दी गई है।
 
हरियाणा के तोशाम में हुड़दंगियों ने बीजेपी सांसद धर्मवीर सिंह के घर आगजनी की। राज्य के चार ज़िलों में कर्फ़्यू लगा हुआ है जबकि गुड़गांव समेत 9 ज़िलों में धारा 144 लगा हुआ है। सबसे बुरे हालात झज्जर, रोहतक और कैथल में हैं जहां उपद्रवियों द्वारा कई दुकानों, शोरूम, मल्टीप्लेक्स में आग और लूटपाट की खबर आ रही है। यहीं नहीं आंदोलनकारियों ने कई जगहों पर सड़क पर जाम लगा दिया है जिससे स्थिति बहुत खराब हो गई है।
 
वहीं दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने कहा कि शहर में पानी लगभग खत्म हो गया। सोमवार को स्कूल बंद रहेंगे। दरअसल, जाटों ने मुनक नहर को बंद कर दिया है, जिसके चलते पानी की आपूर्ति प्रभावित हुई है। केंद्र ने हरियाणा सरकार से यह सुनिश्चित करने को कहा है कि आंदोलन के चलते दिल्ली में पानी की सप्लाई बाधित न हो। दिल्ली बॉर्डर पर नांगलोई  मेट्रो स्टेशन के बाहर प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली-बहादुरगढ़ रोड़ जाम कर दी है।
 
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा जंतर-मंतर पर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं।  उनका कहना है कि राज्य सरकार जल्द जाट आरक्षण पर फ़ैसला ले ताकि आंदोलन को ख़त्म किया जा सके। साथ ही उन्होंने आंदोलनकारियों से शांति बनाए रखने की अपील की है।
नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने इस प्रदर्शन की वजह से हरियाणा में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए अतिरिक्त फ्लाइट का इंतज़ाम किया है।
 
हरियाणा में सेना की तैनाती में सड़क जाम की वजह से दिक्कतें आ रही हैं लेकिन जहां भी इस तरह के हालात हैं वहां हेलीकॉप्टर की मदद से सेना को तैनात किया जा रहा है। साथ ही फंसे गए लोगों को भी हेलीकॉप्टर की मदद से बाहर निकाला जा रहा है। बताया जा रहा है कि करीब 150 सेना के जवानों को 15 हज़ार लोगों की भीड़ का सामना करना पड़ रहा था।
 
रोहतक और सोनीपात में हालात पर काबू पाने के लिए IRB और एचएपी की 15 कंपनियां,अर्धसैनिक बलों की 3 कंपनियां और सेना की दो टुकड़ियां पहले ही तैनात की जी चुकी हैं। हरियाणा सरकार के एक प्रवक्ता ने जानकारी दी है कि 154 FIR दर्ज की गई हैं और उपद्रवियों की पहचान की जा रही है।