चंडीगढ़ के बाद अब गुरुग्राम में पीछा करने का मामला : कार में मौजूद लड़के चिल्लाते रहे, रोकते रहे...

गुरुग्राम: चंडीगढ़ की सड़कों पर देर रात वर्णिका कुंडु की कार का पीछा किए जाने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ है कि एक और ऐसा ही मामला सामने आ गया है. यह मामला हरियाणा के गुरुग्राम का है. 25 साल की एक कामकाजी लड़की का पीछा कुछ लड़कों ने अपनी कार में उस वक्त किया जब वह ऑफिस से घर वापस जा रही थी. वे उसे लगातार रोकने की कोशिश करते रहे और उस पर  चिल्लाते रहे.

लड़की स्कूटर पर थी और आधी रात को ऑफिस से निकलने के कुछ समय बाद ही उसने पाया कि कुछ लोग उसका पीछा कर रहे हैं. इन लड़कों ने उसका तीन किलोमीटर तक पीछा किया. लड़की पुलिस स्टेशन गई लेकिन वह कार का नंबर याद नहीं कर पाई. लड़की को नंबर का सिर्फ यह हिस्सा याद रहा- "HR-57"

वह बाद में सुबह पुलिस कमिश्नर संदीप खिरवार के ऑफिस पहुंची और शिकायत दर्ज करवाई. पुलिस ने पीछा करने का मामला दर्ज किया है लेकिन पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज मिलने से पहले वे कुछ खास नहीं कर सकते. 

वहीं, चंडीगढ़ में वर्णिका कुंडु का मामला अब तूल पकड़ चुका है.  हरियाणा बीजेपी के अध्‍यक्ष सुभाष बराला के बेटे द्वारा चंडीगढ़ में कथित रूप से एक लड़की का पीछा करने के मामले में विकास बराला और उसके दोस्त की आज पेशी होनी है. इस बीच सूत्रों के हवाले से ख़बर है कि विकास बराला ने पुलिस की पूछताछ में वर्णिका कुंडू की कार का पीछा करने की बात क़बूल कर ली है. पीड़िता ने आरोप लगाया है कि विकास बराला और उसका दोस्त आशीष कुमार एक पेट्रोल पंप से ही उसकी कार का पीछा कर रहे थे और फिर उन्होंने कार को रोकने की कोशिश भी की.
दो बार इनमें से एक आदमी अपनी गाड़ी से निकला और उसने कार का दरवाज़ा खोलने की कोशिश की. इसी दौरान लड़की के कई बार फोन करने पर पुलिस वहां पहुंची और दोनों लड़कों को गिरफ़्तार कर लिया. पीड़िता के पिता ने फेसबुक पर लिखा, ‘अगर हम दोषियों को न्याय के कठघरे में लाने के लिए प्रयासरत नहीं रहते हैं तो और अधिक बेटियां यह आघात सहेंगी.’

POPULAR ON IBN7.IN