पीएम नरेन्द्र मोदी द्वारा नोटबंदी की घोषणा के बाद भी हरियाणा स्पीकर कंवर पाल सिंह ने बंटवाये 500 और 1000 के पुराने नोट, शिकायत दर्ज

हरियाणा विधानसभा के स्पीकर कंवर पाल सिंह गुर्जर के खिलाफ राज्य के पूर्व गृह मंत्री संपत सिंह ने शिकायत दर्ज कराई है। मंगलवार 18 जुलाई को स्पीकर के खिलाफ दर्ज शिकायत में संपत सिंह ने कहा है कि नोटबंदी के बावजूद विधानसभा स्पीकर ने हरियाणा विधानसभा के कर्मचारियों के बीच 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट में 16 लाख 20 हजार रुपये बांटने के आदेश दिये। कंवर पाल सिंह ने ये आदेश नोटबंदी की घोषणा के एक सप्ताह बाद दिये थे। हालांकि स्पीकर का दावा है कि उन्होंने जो कुछ भी किया कानूनी प्रावधानों के मुताबिक किया है। गुर्जर सिंह ने आरोप लगाया कि पूर्व गृह मंत्री के पास अभी कोई काम नहीं है, इसलिए हताशा में वे ऐसे कदम उठा रहे हैं। संपत सिंह ने चंडीगढ़ के सेक्टर-3 थाने में दर्ज शिकायत में स्पीकर, विधानसभा के तीन अधिकारियों और हरियाणा के मुख्य महालेखाकर के एक अधिकारी के खिलाफ पीएम नरेन्द्र मोदी द्वारा नोटबंदी के अधिसूचना की अवहेलना कर पुराने नोटों को बांटने का आरोप लगाया और इनके खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की।

संपत सिंह ने अपने शिकायत में कहा, ‘आरोपियों ने जान बूझकर नोटबंदी के प्रावधानों की अवहेलना कर प्रतिबंधित 500 और 100 रुपये के नोट बांटने के आदेश दिये। बता दें कि हरियाणा विधानसभा के 319 कर्मचारियों के बीच 5100 रुपये और 2100 मानदेय के रुप में 15 और 16 नवंबर 2016 को बांटे गये थे। इस मामले पर सफाई देते हुए विधानसभा अध्यक्ष के सचिव सुभाष शर्मा ने कहा है कि सरकार ने हरियाणा के स्वर्ण जयंती समारोह, जो कि 3 नवंबर को पंचकुला में आयोजित किया गया था, में लगभग 300 पूर्व विधायकों को सम्मानित करने के लिए 11 हजार रुपये मानदेय देने का फैसला किया था, इसके लिए विधानसभा बजट ने 33 लाख 20 हजार रुपये निकाले गये थे, इसमें से 16 लाख 50 हजार रुपये बांट दिये गये, जबकि 16 लाख 72 हजार रुपये बच गये।

इस बीच नोटबंदी की घोषणा हो गयी। सुभाष शर्मा ने कहा कि इस बचे पैसे को वापस विधानसभा के खाते में जमा करने का कोई प्रावधान नहीं था, इसलिए सरकार ने महालेखाकर के ऑफिस से अनुमति लेकर इस पैसे को विधानसभा के कर्मचारियों के बीच बांटने का फैसला किया। चंडीगढ़ पुलिस का कहना है कि शिकायत ई मेल के जरिये भेजी गयी, उसका अध्ययन कर कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

POPULAR ON IBN7.IN