गुजरात चुनाव से पहले बीजेपी को झटका, निखिल सवानी ने 'कैश बम' का आरोप लगाकर पार्टी छोड़ी

अहमदाबाद: गुजरात चुनाव से ठीक पहले पाटीदार समाज की ओर से बीजेपी को दो झटके लगे हैं, जिससे पार्टी बैकफुट पर आ गई है. हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए निखिल सवानी ने पार्टी पर खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते हुए इस्तीफ़ा दे दिया है. वहीं इससे पहले एक और पाटीदार नेता नरेन्द्र पटेल ने बीजेपी पर 1 करोड़ का लालच देने का आरोप लगाया है. 

26 सितंबर को पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के नेता निखिल सवानी पाटीदार समुदाय के क़रीब डेढ़ सौ लोगों के साथ बीजेपी में धूमधाम से ये कहते हुए शामिल हुए थे कि राज्य सरकार उनके समुदाय के हित के लिए काम कर रही है, लेकिन आज बीजेपी को तगड़ा झटका देते हुए उन्होंने बीजेपी छोड़ दी. सवानी ने आरोप लगाया कि बीजेपी ने जिन योजनाओं का ऐलान किया था वो महज़ चुनावी हथकंडा साबित हुआ. साथ ही उन्होंने पार्टी पर खरीद-फरोख्त के लिए करोड़ों रुपये बांटने का भी आरोप लगाया. सवानी ने कहा कि जो पाटीदारों के हित की बात करेगा वे उनका समर्थन करेंगे और इस सिलसिले में वह राहुल गांधी से भी मिलेंगे.

इससे पहले पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के संयोजक नरेंद्र पटेल ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. नरेंद्र पटेल ने कहा कि हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए वरुण पटेल ने उन्हें बीजेपी में शामिल होने के लिए 1 करोड़ रुपये की पेशकश की थी. मुझे पहले 10 लाख रुपये दिए जा चुके हैं. 1 करोड़ क्या रिजर्व बैंक भी मुझे खरीद नहीं सकता. नरेंद्र ने ये भी बताया कि उन्हें एक करोड़ रुपये की पहली किस्त 10 लाख रुपये दी जा चुकी है, जिस वक़्त नरेंद्र मीडिया के सामने इसका खुलासा कर रहे थे उस वक्त ये 10 लाख रुपये कैश लेकर आए थे.

POPULAR ON IBN7.IN