कांग्रेस पर पीएम मोदी का तंज, कहा- जब-जब गुजरात का चुनाव आता है, उन्हें बुखार आता है

गांधीनगर:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात गौरव महासम्मेलन को  संबोधित करते हुए कहा कि लोकतंत्र में चुनाव एक यज्ञ होता है. चुनाव के यज्ञ में लोकतंत्र के सभी सिपाही, सभी मतदाता और अधिक अच्छा करने के भाव से हर कोई जुटता है. लेकिन सतयुग से हम सुनते आए हैं, जब-जब यज्ञ होता है रुकावट डालने वाले इसमें रुकावट डालते हैं. आज भी ऐसे बहुत से लोग हैं जो लोकतंत्र के इस यज्ञ में रुकावटें डालेंगे. क्योंकि भाजपा की विजय यात्रा कुछ लोगों को परेशान कर रही है.


बहुत सरकारें देखी हैं, धनबल और बाहुबल से चलने वाली पार्टियां, वंशवाद से चलने वाली पार्टियां हैं, लेकिन लोकतांत्रिक तरीके से चलने वाली यह इकलौती पार्टी है. कांग्रेस का नाम लिए बिना प्रधानमंत्री ने कहा कि वह पार्टी की भाषा इतनी नीचे गिर सकती है, कोई सोच नहीं सकता. क्योंकि उसने सकारात्मक सोच को छोड़ दिया. नकारात्मक सोच के जरिए चुनाव जीतने की तिकड़म में लगी रहती है. 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की इतनी सरकारें आईं, लेकिन सिंचाई से जु़ड़ी तमाम योजनाएं अटकी पड़ी रहीं, क्योंकि कांग्रेस को विकास में कोई रूचि नहीं है. 12 लाख करोड़ के प्रोजेक्ट अटके पड़े थे, हमने उन्हें शुरू किया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी विकास के मुद्दे पर चुनाव नहीं लड़ा, हमेशा सांप्रदायिकता, जाति-धर्म और भ्रमित करके ही चुनाव जीते हैं. 

gandhinagar

जो गुजरात कांग्रेस को कभी पसंद नहीं था, ज्योति संघ के कार्यक्रम में पंडित नेहरू ज्योति संघ भूल जाते थे बार-बार जनसंघ बोलते थे, जबकि उस समय जनसंघ एक बालक था, उस समय भी पंडित नेहरू जनसंघ से कांप रहे थे और अब तो संघ पूर्ण यौवन पर है, इसलिए कांग्रेस का कांपना स्वाभिक है. 

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर वार करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ा. उन्होंने कांग्रेस को जमानती पार्टी तक कह डाला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी जमानती पार्टी है, क्योंकि कांग्रेस के मुखिया खुद जमानत पर बाहर हैं और भ्रष्टाचार के मामलों में जमानत पर बाहर आए नेताओं के साथ मंच साझा कर रहे हैं. भाजपा चुनौती देती है कि विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़े कांग्रेस. उन्होंने गुजराती में भी जनता को संबोधित किया. गुजराती में उन्होंने जीएसटी के फायदों को रखा.  

इससे पहले महासम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एक तरह जहां केंद्र सरकार के कामों को जनता के सामने रखा, वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर भी जमकर कटाक्ष किए.उन्होंने महासम्मेलन को गुजराती में ही संबोधित किया.

महात्मा गांधी के जन्मदिन पर बीजेपी ने गुजरात गौरव यात्रा की शुरुआत की थी. इस दौरान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ समेत कई बड़े नेताओं ने रैलियां कीं. 15 दिनों तक चली ये यात्रा गुजरात की 182 में से 149 विधानसभा सीटों से होकर गुज़री. कुल 47 सौ किलोमीटर से ज़्यादा का सफ़र तय करने वाली इस यात्रा का आज समापान हो रहा है. यात्रा की पंचलाइन 'हूं विकास छू, हूं गुजरात छू' है, के ज़रिए राज्य में भाजपा के 22 साल के शासन की उपलब्धियों को लोगों के बीच रखा गया. 

POPULAR ON IBN7.IN