गुजरात विधानसभा चुनाव : राहुल गांधी के इन बयानों का जवाब बीजेपी को जल्दी ढूंढना होगा

  दिल्ली: गुजरात विधानसभा चुनाव के  लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पूरी तरह से मोर्चा संभाल लिया है. पिछले तीन महीने से उनके बदले तेवरों से थोड़ा हैरानी जरूर है. अभी तक देखा जाता था कि राहुल गांधी जनसभाओं में आम जनता के बीच वैसा संवाद नहीं कर पाते थे जो आम तौर पर उनके स्तर के नेता कर लेते हैं. इस मामले में वह भी अभी प्रधानमंत्री मोदी से कोसों दूर हैं. लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि वह अब धीरे-धीरे लय पकड़ रहे हैं. उनकी बातों से कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में उत्साह भर जाता है. हाल ही में राहुल की ओर से कुछ ऐसे बयान दिए गए हैं जो इस सोशल मीडिया में छाए हुए हैं. अभी तक उनकी बातों का मजाक उड़ाया जाता था लेकिन ऐसा लग रहा है कि राहुल गांधी ने अपनी इस कमजोरी को हथियार बना लिया है. 


राहुल गांधी ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद बीजेपी ने बहुत कुछ सिखा दिया है. राहुल यही नहीं रूके उन्होंने कहा कि बीजेपी ने पीट-पीट कर उनकी आंखें खोल दी हैं. इसके बाद राहुल ने कहा 'वह (बीजेपी) भले ही कहते कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हों, लेकिन मैं कभी नहीं चाहूंगा बीजेपी मुक्त भारत. क्योंकि उन्होंने काफी कुछ सीखा है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र की कंपनी के कारोबार में भारी बढ़ोत्तरी से जुड़ी खबर के सामने आने के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सरकार ‘बेटी बचाओ’ से आगे बढ़ते हुए ‘बेटा बचाओ’ में बदल गई है. राहुल गांधी ने ट्विटर पर कहा, बेटी बचाओ से, बेटा बचाओ के रूप में आश्चर्यजनक बदलाव.’’ उन्होंने शाह के पुत्र को ‘शाहजादा’ के रूप में संबोधित किया.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी के टर्नओवर पर उठे सवाल पर राहुल गांधी ने सीधे पीएम मोदी को निशाने पर ले लिया और पूछा कि चौकीदार कहां हैं.


अमेठी दौरे पर राहुल गांधी ने कठौरा गांव में चौपाल लगाई. राहुल ने कहा, 'दो मुद्दे हैं हिंदुस्तान में- किसान और रोजगार का मसला. इनका समाधान सरकार को करना चाहिए. मोदी जी (इनका समाधान) नहीं कर सकते तो कह दें कि वह नहीं कर सकते. कहें कांग्रेस पार्टी आ जाए और वो मेरा काम कर दे तो हम वो काम छह महीने के अंदर करके दिखा देंगे.'

हालांकि इन राहुल के इन बयानों का जवाब बीजेपी की ओर से प्रेंस कांन्फ्रेंस और कुछ जनसभाओं में जरूर दिया गया है लेकिन पीएम मोदी इनका जवाब कैसे देंगे यह देखने वाली बात होगी और तभी बदले-बदले नजर आ रहे राहुल का असली इम्तेहान होगा.

POPULAR ON IBN7.IN