मोदी ने गृहनगर में शानदार स्वागत के लिए आभार जताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रविवार को उनके गृहनगर वडनगर में हजारों लोगों ने गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। स्वागत से अभिभूत मोदी ने लोगों का आभार जताया और देश के लिए और भी कड़ी मेहनत करने का भरोसा दिलाया। मोदी ने यहां एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुए कहा, "किसी का गृहनगर में वापस आना और उसका इस तरह से शानदार स्वागत किया जाना विशेष बात है। मैं आपके आशीर्वाद के साथ वापस जाऊंगा और आपको भरोसा दिलाता हूं कि मैं देश के लिए और ज्यादा कड़ी मेहनत करूंगा।"

उन्होंने कहा, "मैं जो भी आज हूं, वह आपके सबके बीच वडनगर में इस मिट्टी पर सीखे गए संस्कार की वजह से हूं।"

मोदी ने संपूर्ण टीकाकरण के काम में तेजी लाने के लिए 'इंटेंसीफाइड मिशन इंद्रधनुष' लांच किया।

उन्होंने कहा कि उन्हें स्वास्थ्य क्षेत्र से संबंधित परियोजनाओं का उद्घाटन करने का मौका मिला, विशेष रूप से इंटेंसीफाइड मिशन इंद्रधनुष का। 

उन्होंने कहा कि गरीबों के लिए स्वास्थ्य सुविधा सुलभ बनाने के लिए लगातार काम किया जा रहा है। 

साल 2014 में प्रधानंमत्री बनने के बाद मोदी पहली बार वडनगर पहुंचे। उन्होंने शनिवार को अपने दौरे के बारे में ट्वीट किया, "मैं वडनगर का दौरा करने को लेकर उत्साहित हूं। यह दौरा मेरे बचपन की कुछ यादें ताजा कर देगा।"

प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए शहर को झंडों और तोरण से सजाया गया था। 

मोदी ने 500 करोड़ रुपये की लागत से बने जीएमईआरएस मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन किया और कक्षा में चिकित्सा छात्रों से संवाद भी किया। 

मोदी ने अपने स्कूल का भी दौरा किया, जहां घुटनों पर बैठकर उन्होंने वहां की मिट्टी को माथे पर लगाया। उन्होंने हाटकेश्वर महादेव मंदिर में पूजा-अर्चना भी की। 

मोदी यहां युवास्था के दौरान रेलवे स्टेशन पर चाय बेचा करते थे। 

POPULAR ON IBN7.IN