HDFC के कर्मचारी का मर्डर करके लूटी 9 लाख की नई करेंसी, 20 प्रतिशत कमीशन लेकर बदलता था नोट

गुजरात के जूनागढ़ में HDFC बैंक के एक कर्मचारी का मर्डर कर दिया गया और उससे 9 लाख रुपए लूट लिए गए। वह सारे पैसे नई करेंसी में थे। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, जिस शख्स को मारा गया उसका नाम राम उर्फ राजेश अहीर है। वह और उसके साथी किशोर जिलारिया पर आरोप है कि दोनों कमीशन लेकर नोट बदलने का काम किया करते थे। जानकारी के मुताबिक, दोनों कुछ लोगों को पैसा देने के लिए ही गए थे वहीं पर अहीर का कत्ल हो गया।

खबर के मुताबिक, पुलिस इंस्पेक्टर एवी थेलिवा ने कहा, ‘अहीर और किशोर दोनों HDFC के लोन डिपार्टमेंट में काम किया करते थे। अहीर ने कुछ लोगों से बात की थी कि वह 20 प्रतिशत का कमीशन लेकर पुराने नोट बदलवा देगा। इसलिए वे दोनों 9 लाख रुपए के नए नोट लेकर एक सुनसान जगह पहुंचे थे। वहां दोनों का उन तीन लोगों से झगड़ा हो गया जो पैसे बदलवाने आए थे। इसपर उन तीनों ने अहीर को चाकू मार दिया जिससे उसकी मौत हो गई। अहीर को मारकर वे लोग किशोर से पैसे लेकर भाग गए।’

किशोर जिसे उन लोगों ने कुछ भी नहीं किया था उसने ही पुलिस को मर्डर के बारे में बताया था। हालांकि, पहले उसने नोट बदलने वाली बात के बारे में कुछ नहीं बताया था। लेकिन बाद में उसने खुद ही पुलिस को सब बता दिया। शुरुआती जांच में निकलकर आया है कि अहीर ने कई सारे लोगों ने नए नोट एकत्रित किए थे। जिस शख्स पर अहीर को मारने का आरोप है उसकी पहचान हो गई है। पुलिस ने कहा है कि उसे जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

गौरतलब है कि 8 नवबंर को नोटबंदी का ऐलान किया गया था। तब से कई बैंक कर्मचारी कमीशन लेकर नोट बदलते हुए पकड़े गए हैं। कमीशन लेकर नोट बदलने वालों प्राइवेट बैंक ज्यादा शामिल हैं।