गोवा विधानसभा में हंगामा, कार्यवाही बाधित

गोवा विधानसभा में मानसून सत्र के पहले दिन मंगलवार को कांग्रेस पार्टी की ओर से स्थगन प्रस्ताव स्वीकार किए जाने की मांग पर हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी। विपक्ष के नेता चंद्रकांत कावलेकर ने जून में जारी एक विवादास्पद परिपत्र पर चर्चा के लिए स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया था। परिपत्र में विधायकों के आवासों पर आयोजित जन शिकायत निवारण बैठकों में सरकारी कर्मचारियों के भाग लेने पर प्रतिबंध लगा दिया गया।

कावलेकर ने विधानसभा अध्यक्ष प्रमोद सावंत से इस मुद्दे पर सदन की कार्यवाही शुरू होने तथा प्रश्नकाल के दौरान विचार किए जाने का अनुरोध किया था।

विधानसभा अध्यक्ष ने जब कावलेकर की मांग नहीं मानी तो कांग्रेस विधायकों ने प्रश्नकाल के दौरान हंगामा शुरू कर दिया।

कांग्रेस विधायक एलेक्सिो रेगिनाल्डो ने कहा, "सत्तारूढ़ पार्टी विपक्ष के विधायकों द्वारा जन शिकायतों का निवारण नहीं करने देकर विपक्ष को समाप्त करने का प्रयास कर रही है।"

भारी शोर शराबे को देखते हुए विधानसभा अध्यक्ष को सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी।

POPULAR ON IBN7.IN