समुद्र तट पर मगरमच्छ दिखने से गोवा पर्यटन में हलचल

पणजी: गोवा के खूबसूरत मोर्जिम समुद्रतट पर मगरमच्छ की मौजूदगी वाली एक तस्वीर सोशल मीडिया में आने के बाद यह मुद्दा स्थानीय पर्यटन में चर्चा का विषय बन गया है। रूस के पर्यटकों के बीच मशहूर मोर्जिम तट पर एक मगरमच्छ की तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो गई है। पणजी से 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह समुद्रतट गोवा के सर्वाधिक लोकप्रिय समुद्र तटों में से एक है। इसे बोलचाल में 'लिटिल रशा' (लघु रूस) कहा जाता है।

गोवा के आंतरिक इलाकों की दलदली नदियों में मगरमच्छों का दिखना आम है, लेकिन यहां के समुद्रतटों पर ये जीव विरले ही दिखते हैं।

पर्यटन निदेशक अमेय अभयंकर ने कहा, "गोवा के समुद्रतट सुरक्षित हैं, क्योंकि वहां लगातार गश्त होती है। लाइफगार्ड भी किसी अप्रिय घटना की आशंका को देखते हुए सतर्क हैं।"

एक पर्यटक अधिकारी ने मीडिया के एक विशेष वर्ग पर 'मामले को तूल' देने का आरोप लगाया।

सर्वाधिक पुराने पर्यटन समूहों में से एक ट्रेवल एंड ट्यूरिज्म एसोसिएशन ऑफ गोवा (टीटीएजी) के अध्यक्ष फ्रांसिस्को ब्रगैंजा ने कहा, "राष्ट्रीय मीडिया मामले को जरूरत से ज्यादा हवा देती जान पड़ रही है। उन्हें पर्यटकों में हौव्वा मचाने की कोशिश करने से पहले कहानी के दूसरे पहलू को भी सुनना चाहिए।"

मोर्जिम स्थित पिरचे विलेज ईको रिजॉर्ट के मैनेजर कल्पेश फोंडकर ने कहा कि अक्टूबर में गोवा का पर्यटन सीजन शुरू होते ही सारा विवाद खत्म हो जाएगा।

उन्होंने कहा, "ऐसा तो नहीं है कि समुद्रतट पर एक गॉडजिला या डायनासोर था। यह एक मगरमच्छ था। गोवा की नदियों में हमेशा से मगरमच्छ रहे हैं। अक्टूबर शुरू होते ही यह मसला भुला दिया जाएगा।"

POPULAR ON IBN7.IN