छग : हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश

रायपुर: छत्तीसगढ़ पुलिस ने एक हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है। इस रैकेट की सबसे कड़ी बात यह है कि लड़कियों की आपत्तिजनक तस्वीरों को व्हाट्स एप के माध्यम से देखकर लोग बोली लगाते और फिर लड़कियों को दूसरे राज्यों से बुलाया जाता था। पुलिस ने आरोपी दलाल और कोलकाता की दो लड़कियों को गिरफ्तार किया है। राजेंद्र नगर पुलिस ने बताया कि अशोका रतन में रहने वाला आदित्य सिंह ठाकुर उर्फ पोषण एजेंट का काम करता है। वह दूसरे राज्यों से लड़कियां बुलाकर लोगों को उपलब्ध कराता है। आरोपी पीटा एक्ट में दो बार जेल भी जा चुका है।

राजेंद्र नगर थाना टीआई संध्या द्विवेदी ने बताया कि आरोपी युवक आदित्य सिंह को हिरासत में लिया गया है।

सूत्रों ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि आरोपी जेल से छूटने के बाद फिर से सेक्स रैकेट चला रहा है। पुलिस ने अपना एक प्वाइंटर उसके पीछे लगाया, जिसने एजेंट आदित्य से संपर्क किया। प्वाइंटर ने कहा कि एक जन्मदिन की पार्टी है। उसके लिए दो लड़कियां चाहिए। आदित्य ने बताया कि लड़कियां बाहर से बुलानी पड़ती है। उसकी कीमत ज्यादा है। दोनों के बीच सौदा तय हो गया।

एजेंट ने कोलकाता से 20 और 21 साल की दो युवतियों को बुलाया। दोनों युवतियां शुक्रवार को ट्रेन से रायपुर पहुंचीं। उन्हें स्टेशन रोड के होटल में ठहराया गया था। प्वाइंटर ने एजेंट को युवतियों को लेकर शनिवार शाम राजेंद्र नगर बुलाया जहां उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि एजेंट ने पुलिस के प्वाइंटर को वाट्स एप पर कई युवती की फोटो भेजी थी। इसमें अलग-अलग उम्र की युवतियां थीं। सभी आपत्तिजनक फोटो थी। फोटो के आधार पर प्वाइंटर ने दो युवतियां का चयन किया। उस आधार पर दोनों को बुलाया गया। पुलिस ने बताया कि दोनों युवतियां इसी पेशे से जुड़ी हैं। इसमें एक महिला का नाम सामने आया है जिसने एजेंट का युवतियों से परिचय कराया, तब युवतियां रायपुर पहुंचीं।

पुलिस के अनुसार, यह बड़ा रैकेट है। आरोपी के आधा दर्जन से ज्यादा साथी पिछली बार गिरफ्तार हुए थे। जो प्रदेश के अलग-अलग शहर में काम करते हैं। पुलिस को आशंका है कि बाकी आरोपी भी जेल से छूटने के बाद इसी काम में लग गए होंगे। पुलिस उनके बारे में भी पता कर रही है।

POPULAR ON IBN7.IN