छग : नोटबंदी बाद राज्य में अब 1877 एटीएम चालू

रायपुर: राज्य सरकार ने बैंकों के सहयोग से जहां शासकीय कर्मचारियों और पेंशनरों के वेतन भुगतान के लिए बैंकों में अलग काउंटर की व्यवस्था की है, वहीं आठ नवम्बर की मध्य रात्रि से नोटबंदी के बाद एक दिसम्बर तक (विगत 22 दिनों में) छत्तीसगढ़ के 1877 एटीएम को नए नोटों के भुगतान के लिए चालू कर दिया गया है।

यहां जारी आधिकारिक बयान के अनुसार, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्देश पर प्रदेश के सभी जिलों में सभी बैंकों द्वारा खाता विहीन मजदूरों, किसानों और अन्य नागरिकों के बैंक खाते खुलवाने के लिए विशेष शिविर भी लगाए जा रहे हैं। विगत छह दिनों में (26 नवम्बर से एक दिसम्बर तक) राज्य में इस प्रकार के 1650 शिविर लगाकर 29 हजार से ज्यादा लोगों के फार्म जमा किए गए हैं और उनके खाते खोले गए हैं। प्रदेश भर में विभिन्न बैंकों के 3200 से ज्यादा बैंक मित्र दूर-दराज के क्षेत्रों में नए खाते खोलने के लिए लोगों को सहयोग कर रहे हैं।

बयान के अनुसार, नगद विहीन प्रणाली (कैशलेस सिस्टम) को बढ़ावा देने के लिए सभी दुकानदारों, व्यापारियों और विभिन्न व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में पॉइंट ऑफ सेल (पीओएस) मशीनें लगाने और उनके प्रचार-प्रसार का काम भी शुरू कर दिया गया है। अब तक तीन हजार से ज्यादा पीओएस मशीनों की बुकिंग हो चुकी है और उन्हें लगाने की प्रक्रिया जारी है।

POPULAR ON IBN7.IN