बिहार में मंत्रियों की मांग, कुंवर के हाथों हुई नियुक्तियों की जांच हो

पटना, 11 मार्च (आईएएनएस)| बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित कई मंत्रियों ने निवर्तमान राज्यपाल एवं कुलाधिपति देवानंद कुंवर के कार्यकाल में राज्य के विश्वविद्यालयों में हुई नियुक्तियों की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग की है। राज्य के कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने सोमवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि कुंवर के कार्यकाल के दौरान विश्वविद्यालयों में कुलपतियों और प्रतिकुलपतियों की नियुक्ति की केंद्र सरकार को सीबीआई से व्यापक जांच करानी चाहिए। उन्होंने कहा कि आरोप लगाया जा रहा है कि कुछ 'लेनदेन' के बाद कुलपतियों और प्रतिकुलपतियों की नियुक्ति हुई है।

राज्य के पशु एवं मत्स्य पालन मंत्री गिरिराज सिंह ने भी कहा कि इतने बड़े संवैधानिक पद पर बैठे किसी व्यक्ति पर ऐसा आरोप लगता है तो उच्चस्तरीय जांच कराई जानी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि उप मुख्यमंत्री मोदी ने रविवार को कहा था कि कुंवर पर कुलपतियों सहित अन्य नियुक्तियों में बड़े पैमाने पर पैसा लेने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि बिहार विधानमंडल के संयुक्त सत्र के दौरान 18 फरवरी को कांग्रेस की विधायक ज्योति कुमारी ने राज्यपाल पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे।

ज्योति ने कुलपतियों की नियुक्ति के लिए तीन करोड़ और प्राचार्यो की नियुक्ति के लिए एक-एक करोड़ रुपये लिए जाने का आरोप लगाया था। मोदी ने कहा कि ऐसे आरोपों की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

गौरतलब है कि जून 2009 में कुंवर को बिहार का राज्यपाल नियुक्त किया गया था। कुलपतियों और प्रति कुलपतियों की नियुक्ति में राज्य सरकार की सलाह नहीं लेने और उच्चतर शिक्षा से जुड़े विधेयकों को लटकाए रहने के कारण शुरू से ही कुंवर विवादों में रहे हैं। इन नियुक्तियों का मामला पटना उच्च न्यायालय तक जा पहुंचा था।

पिछले शनिवार को कुंवर को त्रिपुरा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है जबकि बिहार में डी़ वाई़ पाटील को नया राज्यपाल नियुक्त किया गया है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN