यशवंत सिन्हा- भ्रष्टाचार पर जीरो टोलेरेंस की बात कहने वाली बीजेपी नैतिक आधार खो चुकी है

पटना:  बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह  के बेटे जय शाह की कंपनी के टर्नओवर को लेकर उठे सवालों के बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा भी कूद गए हैं. उन्होंने कहा कि इससे पार्टी की छवि को धक्का पहुंचा है. वहीं केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल को निशाने पर लेते हुए पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि ऐसा लगता है कि वह कंपनी के सीए की तौर पर सामने आए हैं. उन्होंने कहा कि वेबसाइट 'द वायर' के खिलाफ जिस तरह से मानहानि का मुकदमा किया गया है वह मीडिया और देश के लिए ठीक नहीं है. सरकार को इस मामले की पूरी जांच करवानी चाहिए. पूर्व वित्त मंत्री यहीं नहीं रूके उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार पर जीरो टोलेरेंस की बात कहने वाली बीजेपी नैतिक आधार खो चुकी है. जिस तरह से एडिशनल सॉलीसॉटर मुकदमा इस मुकदमे की पैरवी करने जा रहे हैं ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है. इसके साथ ही सिन्हा ने सफाई भी दी कि उनका कोई एजेंडा नहीं है. 


गौरतलब है कि वेबसाइट 'द वायर' ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी से जुड़ी एक खबर प्रकाशित की. खबर में रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) के आंकड़े को उद्धृत करते हुए कहा गया कि जय शाह के मालिकाना हक वाले 'टेंपल इंटरप्राइज' की संपत्ति में वर्ष 2015-16 के दौरान 16,000 गुना और उससे पहले के साल से करीब 80 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ.
अब वेबसाइट की इस खबर के बाद से विपक्षी दलों ने बीजेपी, अमित शाह और पीएम नरेंद्र मोदी को निशाने पर ले लिया है. वहीं जय शाह के बचाव में खुद रेल मंत्री पीयूष गोयल उतर गए और प्रेस कांन्फ्रेंस कर सभी आरोपों को खारिज कर दिया.

POPULAR ON IBN7.IN