21 को शराब कारखानों को बंद करने की घोषणा करेंगे नीतीश? : सुशील मोदी

पटना:  बिहार में शराबबंदी को लेकर जागरूकता अभियान के तहत 21 जनवरी को राज्य में बनने वाली मानव श्रृंखला में भले ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शामिल होने की घोषणा की हो परंतु बुधवार को भाजपा ने एक बार फिर बिहार में चल रहे शराब के कारखानों को लेकर सरकार पर निशाना साधा है। पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि क्या 21 जनवरी को मुख्यमंत्री चल रहे शराब कारखानों को बंद करने की घोषणा करेंगे?

भाजपा के वरिष्ठ नेता मोदी ने यहां बुधवार को कहा कि बिहार की जनता सरकार से पूछ रही है कि जब यहां पूर्ण शराबबंदी लागू है तो फिर शराब के कारखाने क्यों चल रहे हैं? करमुक्त शराब का उत्पादन क्यों जारी है? पूर्ण शराबबंदी के बावजूद प्रतिदिन हजारों लीटर शराब क्यों पकड़ी जा रही है?

मोदी ने कहा कि शराब माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं वे पुलिस पर हमले करने लगे हैं।

उन्होंने सरकार से पूछा, "सरकार बताए कि शराबबंदी के 'तालिबानी कानून' में संशोधन के लिए बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में जो राय आई थी, एक महीना से अधिक समय गुजर जाने के बावजूद उन पर कौन सी कार्रवाई हुई है?"

भाजपा नेता ने कहा कि जब बिहार में पूर्ण शराबबंदी है तो यहां की तीन बीयर और 12 विदेशी शराब कारखाने चलने का क्या औचित्य है? शराब के उत्पादन को बढ़ावा क्यों दिया जा रहा है?

उल्लेखनीय है कि बिहार में पिछले साल अप्रैल महीने से शराब पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है।

  • Agency: IANS