बिहार : मुंगेर में अब 'चाय पर चर्चा' के ज़रिए अपराधियों पर कसी जाएगी लगाम

मुंगेर: लोकसभा चुनाव में भाजपा ने मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए जहां 'चाय पर चर्चा' का आयोजन किया था, वहीं बिहार की मुंगेर पुलिस ने अब अपराधियों और रात में चोरी की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए 'चाय पर चर्चा' की है. पुलिस के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि बिहार में मुंगेर जिले की पुलिस ने अपराध रोकने के लिए 'चाय पर चर्चा' करने का फैसला लिया है. मुंगेर पुलिस की इस पहल के तहत लोग उनके इलाके में अपराध से जुड़ी सूचना गश्ती दल के साथ साझा करेंगे और इस दौरान ठंड में चाय की चुस्की का भी आनंद लेंगे.


उल्लेखनीय है कि बिहार का यह जिला अवैध हथियारों के कारोबार के लिए जाना जाता है. मुंगेर के पुलिस अधीक्षक भारती ने इस अपराध से निपटने के लिए चाय पर चर्चा का सुझाव दिया है. भारती ने कहा "शुरूआत में मुंगेर शहर और जमालपुर क्षेत्र में यह अभियान शुरू किया जा रहा है, बाद में इसे और विस्तार दिया जाएगा." उन्होंने बताया कि रात में पांच-पांच पुलिस कर्मियों की टीमें अलग-अलग क्षेत्रों में गश्त पर निकलती हैं. इस दौरान स्थानीय लोग 'चाय पर चर्चा' के दौरान गश्ती दल के साथ अपराध के बारे में सूचना साझा करेंगे.

गश्ती दल को एक फॉर्म पर इलाके के लोगों से हस्ताक्षर कराना पड़ेगा, जो उनके दौरे की पुष्टि के लिए एक सबूत के तौर पर माना जाएगा. उन्होंने कहा कि लोगों को यह शिकायत रहती थी कि गश्ती दल उनके क्षेत्र में नहीं जाता है. इस योजना से लोगों की यह शिकायत भी दूर होगी. स्थानीय लोगों को उत्साहित करने के लिए पुलिस मित्र कार्ड दिया जाएगा, जिस पर पुलिस अधीक्षक के हस्ताक्षर होंगे. पुलिस अधीक्षक का मानना है कि इससे निवासियों के साथ पुलिस को बेहतर संबंध बनाने में मदद मिलेगी और गश्ती दल में शामिल जवानों को नई सूचना भी मिलेगी और वे उत्साहित भी होंगे.

POPULAR ON IBN7.IN