बिहार टॉपर्स घोटाले के मास्टर माइंड को नहीं बख्शेगी सरकार : शिक्षा मंत्री

पटना:  बिहार में चर्चित टॅपर्स घोटाले के मुख्य अरोपी जनता दल (यूनाइटेड) की पूर्व विधायक और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के पूर्व अध्यक्ष लालकेश्वर प्रसाद की पत्नी उषा सिन्हा के जमानत के खिलाफ सरकार ऊपरी अदालत का दरवाजा खटखटाएगी। राज्य के शिक्षा मंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चौधरी ने गुरुवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा कि इंटर टॉपर्स घोटाले में किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे पूरे देश में बिहार की छवि खराब हुई है। ऐसे लोगों को किसी प्रकार की रियायत मिलने का प्रश्न ही नहीं है।

उन्होंने स्पष्ट कहा, "इंटर टॉपर्स घोटाले की मास्टर माइंड उषा सिन्हा को जमानत दिए जाने के खिलाफ बिहार सरकार ऊपरी अदालत में अपील करेगी। यह कानूनी प्रक्रिया है। इसकी पूरी तैयारी की जा चुकी है।"

उन्होंने आगे कहा, "इन लोगों ने बिहार की प्रतिभा और प्रतिभावान छात्रों के भविष्य पर कलंक लगाने का काम किया है, इसलिए इन्हें बख्शा नहीं जाएगा।"

उल्लेखनीय है कि इस महीने में ही पटना की एक अदालत से जमानत मिलने के बाद उषा सिन्हा पटना की बेउर जेल से रिहा हुई हैं।

इस वर्ष 12वीं की परीक्षा में टॉपर्स बनाए जाने में अनियमितता बरते जाने की शिकायत के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आदेश पर इस मामले में विशेष अनुसंधान टीम (एसआईटी) का गठन किया गया था। आरोप के बाद उषा सिन्हा को पार्टी से निकाल भी दिया गया।

एसआईटी ने पूर्व विधायक उषा सिन्हा एवं उनके पति लालकेश्वर प्रसाद को वाराणसी से गिरफ्तार किया था। लालकेश्वर फिलहाल जेल में ही हैं।

POPULAR ON IBN7.IN