असम: बिजनेसमैन के घर से मिले डेढ़ करोड़ रुपए, सारे 500 और 2000 के नए नोटों में

असम पुलिस सीआईडी ने सोमवार को गुवाहाटी के एक कारोबारी के घर से डेढ़ करोड़ रुपए की रकम बरामद की। पूरी रकम 500 और 2000 रुपए के नए नोटों में मिली है। आयकर विभाग मामले की जांच कर रहा है। सीआईडी के डीआईजी रौनक अली हजारिका ने कहा, ”हरजीत सिंह बेदी के घर से हमने अभी तक 500 और 2000 के नए नोटों में कम से कम डेढ़ करोड़ रुपए बरामद किए हैं। वह शहर में एक रेस्‍तरां और बार के मालिक हैं। उन्‍होंने दावा किया है कि उनके पास यह साबित करने के दस्‍तावेज हैं कि यह काला धन नहीं है, हमनें आयकर विभाग से मामले की जांच करने को कहा है।” छापेमारी की शुरुआत कारोबारी के बेलतोला क्षेत्र में स्थित फ्लैट से शुरू हुई, जो अभी तक जारी है। हजारिका ने कहा कि पुलिस ‘बड़े’ फ्लैट का हर कमरा खंगाल रही है। डीआईजी ने कहा, ”नए करेंसी नोटों की यह पहली इतनी बड़ी बरामदगी है और हम जांच कर रहे हैं कि कारोबारी ने इतनी रकम कैसे जुटाई होगी।” दो दिन पहले, सीआईडी ने गुवाहाटी के हतीगांव एरिया में एक और कारोबारी से 2,000 रुपए के नोटों में 80 लाख रुपए की बरामदगी की थी।

सोमवार को दिल्‍ली पुलिस ने भी बड़ी बरामदगी की। दक्षिणपूर्वी दिल्ली के ग्रेटर कैलाश इलाके में छापेमारी में एक लॉ फर्म से 13 करोड़ रुपए जब्त किए गए। इनमें से 2.6 करोड़ रुपए के नए नोट हैं। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि अपराध शाखा ने यह छापेमारी टीएंडटी लॉ फर्म पर शनिवार (10 दिसंबर) रात की। कुल लगभग 13.5 करोड़ रुपए जब्त किए गए हैं। इनमें से 2.62 करोड़ रुपए हाल ही में जारी 2000 रुपए के नये नोटों में हैं।

संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) रविंद्र यादव ने बताया कि जब्त राशि में से 7.7 करोड़ रुपए 1000 रुपए के अप्रचलित नोटों में, 3.3 करोड़ रुपए 100-100 के नोटों में हैं। नोट गिनने की दो मशीनें भी मिली हैं। आयकर विभाग के सूत्रों ने बताया कि इस वकील ने हाल में 125 करोड़ रुपए की बेहिसाब आय की घोषणा की थी जिसके बाद छापेमारी की कार्रवाई की गई है।

दूसरी तरफ, सोमवार को ही राजस्थान के जयपुर में आयकर विभाग ने द इंटीग्रल अर्बन कोऑपरेटिव बैंक की विभन्न बैंकों में छापा मारा और 1.59 करोड़ कैश बरामद किया है। बरामद कैश में से 6904 नोट नए 2000 रुपए के हैं यानी 1.38 करोड़ के 2000 के नए नोट बरामद हुए है।