असम में वन अधिकारी के आवास से 2 करोड़ रुपये, वन्यजीवों की खालें बरामद

गुवाहाटी: असम के एक प्रभागीय वन अधिकारी (डीएफओ) के दो आवासों पर की गई छापेमारी में दो करोड़ रुपये नकद और बाघ तथा हिरण की खालों सहित जंगली जानवरों के शरीर के कई अन्य हिस्से बरामद किए गए। छापेमारी भ्रष्टाचार निरोधक विभाग के अधिकारियों ने की। विभाग से जुड़े जांचकर्ताओं ने बताया कि सरकार ने दोनों अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।

उन्होंने बताया कि धेमाजी वन विभाग के डीएफओ महत तालुकदार को उनके कार्यालय में तीन व्यापारियों से 30,000 रुपये रिश्वत लेते हुए भी पकड़ा गया।

धेमाजी और गुवाहाटी में महत के आवासों पर की गई छापेमारी में जांचकर्ताओं ने जानवरों के अंग और कुछ नकदी भी बरामद किए। 

अधिकारी ने कहा, "हमने उन्हें रिश्वत लेते हुए पकड़े जाने के बाद गिरफ्तार कर लिया। हमने बीती शाम उनके आवासों पर छापा मारा। पहला छापा उनके धेमाजी अवास पर और दूसरा गुवाहाटी आवास पर मारा गया।" हालांकि, जांच अब भी जारी है। 

भ्रष्टाचार विरोधी अधिकारी ने बताया, "हमने कुछ नकदी, उनके निजी वाहन, अन्य कागजात और बैंक पासबुक को जब्त कर लिया है।"

इस बीच, असम सरकार ने महत को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है और उसके खिलाफ जांच का आदेश दिया है। 

--आईएएनएस

POPULAR ON IBN7.IN