आंध्र प्रदेश : पुलिस हिरासत से छूटे पार्षद ने खुदकुशी की

हैदराबाद: आंध्र प्रदेश के चित्तूर शहर में गुरुवार को एक पार्षद ने खुदकुशी कर ली। पार्षद से पुलिस ने एक दिन पहले एक महिला महापौर व उसके पति की हत्या के मामले में गिरफ्तार कर पूछताछ की थी। पार्षद शिवप्रसाद रेड्डी (46) गुरुवार सुबह ही पुलिस हिरासत से घर लौटे थे और उसके बाद खुदकुशी कर ली।

उन्होंने घर में पंखे के सहारे साड़ी से फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में उन्होंने पुलिस द्वारा प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया और पुलिस प्रताड़ना न सही जाने की बात भी लिखी।

पार्षद की खुदकुशी से महापौर कतारी अनुराधा और उनके पति कतारी मोहन की हत्या के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। दंपति की 17 नवंबर को नगर निगम कार्यालय में पांच मास्कधारी बदमाशों ने हत्या कर दी थी।

पुलिस ने इस मामले में अब तक आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। हत्या का मुख्य आरोपी चंद्रशेखर उर्फ चिंटू महापौर के पति कतारी मोहन का रिश्तेदार है। उसने एक दिसंबर को एक अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया था।

शिवप्रसाद रेड्डी को पूर्व विधायक सी.के. जयचंद्रा रेड्डी उर्फ सी.के. बाबू का सहयोगी बताया गया है।

बाबू चार बार विधायक रह चुके हैं। 2007 में स्वयं पर हुए हमले में वह बच निकले थे, लेकिन इसमें उनके गनमैन सहित दो लोग मारे गए थे।

इस हमले का मुख्य आरोपी कतारी मोहन था।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस। 

 

POPULAR ON IBN7.IN