आंध्र प्रदेश में स्थानीय निकायों के लिए मतदान जारी

हैदराबाद: आंध्र प्रदेश में 146 नगरपालिकाओं और 10 नगर निगमों के लिए रविवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान शुरू हो गया। इस बीच विभिन्न क्षेत्रों से हिंसा की छिटपुट घटनाओं की खबर है। लोकसभा चुनावों का सेमीफाइनल माने जा रहे स्थानीय निकायों के चुनाव के लिए तेलंगाना और सीमांध्र में मतदान प्रात: सात बजे शुरू हुआ। कुल 146 नगरपालिकाओं के 3,990 वार्डो और 10 नगरनिगमों के 2,507 विभागों में जनप्रतिनिधियों के चुनाव के लिए 95 लाख से अधिक मतदाता हैं।

राज्य निर्वाचन आयुक्त रमाकांत रेड्डी के मुताबिक, नगरपालिका के चुनाव में 17,864 उम्मीदवार और निगम चुनाव के लिए 3,343 उम्मीदवार मैदान में हैं।

सुबह मतदान शुरू होने के साथ ही मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी कतार लग गई। लोग मतदान के लिए अपनी बारी का इंतजार करते दिखे।

इस बीच, कडपा जिले के बड़वेल में मतदान केंद्र के बाहर धरना दे रहे तेलुगू देशम पार्टी (तेदपा) और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) के कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। दोनों पार्टियों ने एक निर्दलीय उम्मीदवार पर हेराफेरी का आरोप लगाया था।

राज्य निर्वाचन आयोग की घोषणा के तहत दो अप्रैल को स्थानीय निकायों के चुनाव के परिणाम घोषित किए जाने हैं। हालांकि इस चुनाव के परिणाम का असर लोकसभा चुनाव पर पड़ने की आशंका को देखते हुए विभिन्न पार्टियों ने निर्वाचन आयोग से सात मई के पहले परिणाम घोषित नहीं करने का आग्रह किया है।

राज्य में तीन साल के लंबे अंतराल के बाद स्थानीय निकायों के लिए चुनाव हो रहे हैं। कांग्रेस शासित सरकार में अक्टूबर 2010 के बाद यहां स्थानीय निकायों के चुनाव नहीं हुए थे।

उच्च न्यायालय के आदेश का पालन करते हुए निर्वाचन आयोग ने इस महीने की शुरुआत में स्थानीय निकायों के चुनाव की समय सारणी की घोषणा की थी।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN