आंध्र में बैंक में भगदड़, 2 घायल

 

विजयवाड़ा:  आंध्र प्रदेश के पश्चिम गोदावरी जिले में शनिवार को एक बैंक में मची भगदड़ में दो लोग घायल हो गए। इस घटना के दौरान, बैंक में लगे कांच के दरवाजे तथा खिड़कियों के कांच भी क्षतिग्रस्त हो गए।

घटना पश्चिम गोदावरी जिले में पालाकोल्लू स्थित भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) शाखा में घटी। भगदड़ उस वक्त मची, जब भारी संख्या में लोग कतार में खड़े थे और बैंक खुलने के तुरंत बाद लोगों ने बैंक में जबरदस्ती घुसने का प्रयास किया।

इस घटना में दो ग्राहक घायल हो गए। हिंसा फैलने के मद्देनजर, बैंक के अधिकारियों ने कामकाज बंद कर दिया। पुलिस के हस्तक्षेप के बाद हालात नियंत्रण में आया।

आंध्र प्रदेश तथा तेलंगाना के कई बैंकों में कमोवेश इसी तरह का नजारा देखने को मिला। सरकारी तथा निजी कर्मचारियों को दिसंबर महीने के लगातार तीसरे दिन परेशानियों का सामना करना पड़ रहा।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा आंध्र प्रदेश तथा तेलंगाना को क्रमश: 2,420 करोड़ रुपये तथा 1,600 करोड़ रुपये जारी करने के बाद भी हालात में कोई सुधार नहीं आया है।

अल सुबह से लोग पैसे निकालने के लिए बैंकों के बाहर कतार में खड़े दिखे। कई बैंकों में मात्र दो घंटे के भीतर ही नकदी खत्म हो गई।

कर्मचारियों व पेंशनधारकों की शिकायत है कि सरकार द्वारा उन्हें 10,000 रुपये नकद देने के निर्देश के बावजूद बैंक उन्हें 4,000 रुपये या 6,000 रुपये से अधिक की रकम नहीं दे रहे। उनके लिए अलग से काउंटर बनाए जाने की घोषणा के बावजूद उन्हें सामान्य कतार में लगना पड़ रहा है।

इससे बुजुर्ग महिला तथा पुरुषों को सर्वाधिक परेशानी झेलनी पड़ रही है। कई स्थानों पर अपनी बारी का इंतजार करते हुए उन्हें जमीन पर बैठे देखा गया। बैंक में नकदी खत्म होने के बाद कई लोगों को खाली हाथ वापस लौटना पड़ा।

एटीएम के कामकाज में भी कोई सुधार नहीं आया है। कुछ एटीएम से नकद निकल रहे हैं, लेकिन यह कब खत्म हो जाए किसी को नहीं पता। सैकड़ों की तादाद में लोग कम से कम दो हजार रुपये की आस में इन एटीएम के बाहर कतार में खड़े दिखे।

  • Agency: IANS