कोट के बटन को बेशकीमती हीरा बता ठग लिए सवा करोड़ रुपये, पुलिस ने दबोचा तो बताई ये बात

हैदराबाद: हैदराबाद पुलिस की टास्क फोर्स ने दो शातिर ठगों को गिरफ्तार किया है. इन ठगों के पास से पुलिस ने एक करोड़ 15 लाख 20 हज़ार रुपये की नकदी बरामद की है. नकली हीरे को असली हीरा बताकर ठगों ने इन पैसों को ठगा था. हालांकि, इन दोनों आरोपियों ने एक करोड़ 20 लाख रुपये की उगाही की थी, लेकिन 5 लाख रुपये दो हफ्ते के अंदर ही खर्च कर दिए. इस मामले पर शेख हाजी इलियास नाम के एक शख्स ने बीते मंगलवार को जनवरी एक एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसमें उसने कहा कि उसके जानने वाले दो लोगों ने उसे धोखा दिया और नकली हीरा असली कहकर बेच दिया. लेकिन जब दोबारा उसने हीरे की जांच कराई, तो पता चला कि जिसे वो हीरा समझ रहा था वो दरअसल कोट में लगाया जाने वाला महंगा बटन था.

जानकारी के अनुसार, दोनों आरोपियों ने पहले शेख इलियास को भरोसा दिलाया कि 25 कैरट का हीरा, जो वो खरीद रहा है उसकी कीमत बाजार में काफी ज्यादा है. फिर दोनों ने फर्जी मशीनों के जरिए नकली हीरे को असली साबित कर दिया. साथ ही ये वादा भी किया कि कुछ दिनों बाद वो इस हीरे को बेचने में शेख की मदद भी करेंगे. लेकिन जब ये दोनों आरोपी अपने वायदे से मुकर गए, तो शेख इलियास इस हीरे को लेकर बाजार बेचने गए. बाजार में उन्हें दुकानदारों ने बताया कि ये हीरा नकली है. शेख ने इसके बाद मामला दर्ज कराया.

आरोपियों में से एक सलमान और ठगी का शिकार शेख हाजी इलियास साथ-साथ हैदराबद के नाम्फल्ली के एक ज्वेलरी शॉप में काम करते थे. लेकिन बाद में वो दोनों अलग हो गए और सलमान अतहर सिद्दीकी ने बेशकीमती पत्थर का धंधा शुरु किया, जिसमें उसे काफी नुकसान उठाना पड़ा. 
हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर श्रीनिवास राव ने मीडिया को बताया कि इन दोनो ने सोची-समझी चाल के तहत हैदराबाद के बाजार से 3500 में हीरा जैसा दिखने वाली वस्तु खरीदी और शेख इलियास को बेच दिया. दोनों आरोपी पकड़े गए हैं.

POPULAR ON IBN7.IN