लड़कियां बेचने के आरोप में धरा गया मुख्य काजी, इंटरनेशनल रैकेट का पर्दाफाश

पुलिस ने ‘अनुबंध पर शादी’ कराने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है जो मध्य पूर्व और खाड़ी देश के पुरुषों के साथ यहां की स्थानीय महिलाओं और नाबालिग लड़कियों की शादी कराते हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को बताया कि पुलिस ने इस मामले में 20 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है, जिसमें आठ विदेशी नागरिक शामिल हैं। विदेशी नागरिक शादी करके नाबालिग लड़कियां यहां से खाड़ी देश ले जाने के लिए आए थे। इन सब की उम्र 50-60 साल बताई जा रही हैं। वहीं एक की उम्र तो करीब 80 साल है।

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण मंडल) वी सत्यनारायण ने बताया कि पुलिस ने तीन काजियों (शादी कराने वाले लोग), चार मकान मालिकों और पांच एजेंटो/ दलालों को गिरफ्तार किया है जो इस तरह की शादी संपन्न कराते हैं। इन काजियों में फरीद अहमद नाम का मुंबई का चीफ काजी भी शामिल है। इसे इस रैकेट का सरगना बताया जा रहा है। साथ ही उन्होंने बताया, ‘हमने ‘अनुबंध पर शादी’ (छोटी अवधि की शादी) कराने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है और अरब, ओमान और कतर के आठ शेखों के स्थानीय लड़कियों से शादी करने के प्रयास को विफल कर दिया।’

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘दो नाबालिग लड़कियों को छुड़ाया गया। प्राथमिक जांच से सामने आया है कि अनुबंध पर की गई इन शादियों के जरिए यह लोग कम से कम 20 महिलाओं और नाबालिग लड़कियों की तस्करी की योजना बना रहे थे।’ उन्होंने कहा कि गिरोह के संबंध में विस्तृत जांच की जा रही है। हैदराबाद पुलिस ने पहले भी पुराने नगर क्षेत्र में कई ऐसे गिरोहों का भंडाफोड़ किया है जो जाली दस्तावेजों के जरिए ऐसी शादियां करवाते थे। उन्होंने कहा था कि शादी के वक्त, दुल्हन को ‘तलाक’ के कोरे बॉन्ड पेपर पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा जाता है।

बता दें, ऐसा ही मामला कुछ महीने पहले भी सामना आया था, जब ओमान के एक 77 साल के शेख ने 16 साल की लड़की से शादी की थी। शादी के बाद वह उसे अपने साथ ले गया। जिसके बाद उस लड़की ने फोन के जरिए अपने घरवालों को बताया कि शेख उसे शारीरिक और मानसिक तौर पर परेशान कर रहा है। जिसके बाद लड़की मां ने अपने पति, देवर और ननद पर पांच लाख रुपए में बेटी बेच देने का आरोप लगाया था।

POPULAR ON IBN7.IN