तेलंगाना भाजपा का दक्षिणी प्रवेश द्वार बने : शाह

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को यहां कहा कि दक्षिण भारत में दाखिल होने के लिए तेलंगाना को पार्टी का मुख्य द्वार होना चाहिए। अपने तीन दिवसीय तेलंगाना दौरे के दौरान, नलगोंडा जिले के पेद्दादेवुलापल्ली गांव में एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने विश्वास जताया कि भाजपा साल 2019 में तेलंगाना में सरकार का गठन करेगी।

शाह ने कहा कि तेलंगाना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में शुरू की गई विकास प्रक्रिया का हिस्सा होना चाहिए।

उन्होंने कहा, "भाजपा की तेलंगाना इकाई पार्टी को मजबूत करने के लिए जिस तरह हर गांव का दौरा कर रही है, उससे मुझे विश्वास है कि साल 2019 में तेलंगाना में भाजपा सरकार बनाएगी।"

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) पर अपना हमला जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार द्वारा विभिन्न तबके के लोगों के लिए शुरू की गई विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ राज्य के लोगों तक नहीं पहुंच पाया है।

ग्रामीणों के साथ अपनी बातचीत का संदर्भ देते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि लोगों को पेयजल की कमी के कारण समस्या हो रही है और विधवाओं व बुजुर्गो को पेंशन नहीं मिल पा रहा है।

रसायन कारखानों द्वारा खेत बर्बाद किए जा रहे हैं, जिसका खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है।

शाह ने कहा कि देश के सामने जब भी चुनौती आई है, मोदी सरकार चट्टान की तरह खड़ी रही है। उन्होंने दावा किया कि सर्जिकल स्ट्राइक के माध्यम से सरकार ने सशस्त्र बलों का मनोबल बढ़ाया है।

भाजपा अध्यक्ष ने इससे पहले चिन्ना मादरम गांव का दौरा किया और केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए गांव की सरपंच द्वारा उठाए गए कदमों की सराहना की।

शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने गरीबों, महिलाओं, युवाओं तथा अन्य तबकों के लिए 107 योजनाएं शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि अगर इन योजनाओं का क्रियान्वयन जमीनी स्तर पर किया जाए, तो लोगों के जीवन बदल सकते हैं।

इस दौरान, केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय, भाजपा के राज्य अध्यक्ष के.लक्ष्मण तथा अन्य नेता शाह के साथ मौजूद थे।

POPULAR ON IBN7.IN