युवा भारतीय शादी को स्थिरता से जोड़ते हैं : सर्वेक्षण

 

नई दिल्ली:  युवा भारतीयों को लगता है कि शादी उनके जीवन में भावनात्मक और वित्तीय स्थिरता लेकर आएगी। एक सर्वेक्षण में इसका खुलासा हुआ है।

मैरिज ब्यूरो वेबसाइट 'डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट शादी डॉट कॉम' ने हाल ही में अविवाहित युवाओं के शादी के प्रति भावनाओं को जानने के लिए एक सर्वेक्षण कराया।

लगभग 20.5 फीसदी पुरुषों और 23.1 फीसदी महिलाओं ने कहा कि वे शादी करने के लिए और इंतजार नहीं कर सकते हैं और 12.2 प्रतिशत पुरुष व 10.3 फीसदी महिलाओं ने कहा कि वे शादी करने के लिए नहीं बने हैं और उन्हें शादी में दिलचस्पी नहीं है जबकि 18.2 प्रतिशत पुरुष और 13.2 महिलाएं दुविधा में हैं। वे शादी करने को लेकर सुनिश्चित नहीं हैं।

जिन लोगों ने यह कहा कि वे शादी के लिए नहीं बने हैं तो जब इसका कारण पूछा गया तो 35.1 फीसदी पुरुषों और 27.2 फीसदी महिलाओं ने कहा कि वे जिम्मेदारी नहीं उठाना चाहते हैं। वहीं 23.2 फीसदी पुरुषों और 21.3 फीसदी महिलाओं ने कहा कि उन्हें शादी में विश्वास नहीं है। लगभग 26.3 फीसदी पुरुषों और 20.3 फीसदी महिलाओं ने कहा कि वे लंबे समय तक इसे निभाने की प्रतिबद्धता नहीं चाहते हैं। 15.4 फीसदी पुरुषों और 31.2 फीसदी महिलाओं ने कहा कि उन्हें शादी के बाद जीवन में आने वाले बदलाव से डर लगता है।

शादी का सबसे बड़ा फायदा पूछे जाने पर 25.7 फीसदी पुरुषों और 34.7 फीसदी महिलाओं ने भावनात्मक सहारा बताया। 33.7 फीसदी पुरुषों और 20.1 फीसदी महिलाओं ने आर्थिक स्थिरता बताया, जबकि 40.6 फीसदी पुरुषों और 45.2 फीसदी महिलाओं ने जीवनभर के लिए साथी मिलने को बड़ा फायदा बताया।

इस ऑनलाइन सर्वेक्षण में 25 से 32 साल की आयु के बीच के 14,700 लोग (47 फसदी महिलाएं व 53 फीसदी पुरुष) शामिल हुए।

'शादी डॉट कॉम' के सीईओ गौरव रक्षित के मुताबिक, "ऐसा जीवनसाथी पाना जो आपको भवनात्मक के साथ-साथ आर्थिक सहयोग भी दे, एक सफल रिश्ते के लिए बेहद जरूरी है।"

POPULAR ON IBN7.IN