भाजपा कांग्रेस मुक्त मणिपुर की तैयारी कर रही : जावड़ेकर

 इंफाल: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी मणिपुर को कांग्रेस मुक्त बनाने की तैयारी कर रही है। मानव संसाधन विकास मंत्री मणिपुर विधानसभा की 60 सीटों के लिए पार्टी उम्मीदवारों के नामों पर फैसला करने के लिए मणिुपर के दो दिवसीय दौरे पर हैं।

अपने इस दौरे के समापन पर जावड़ेकर ने इंफाल में भाजपा कार्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में कहा, "नामांकन पत्र दाखिल किए जाने से थोड़ी देर पूर्व भाजपा उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी कर दी जाएगी। हर भाजपा सदस्य को पार्टी का टिकट पाने की इच्छा रखने का अधिकार है।"

भाजपा के एक शीर्ष नेता ने आईएएनएस को बताया कि पार्टी टिकट के बंटवारे में देरी, टिकट न मिलने वालों को पार्टी विरोधी गतिविधियां करने से रोकने की वजह से की जा रही है।

उन्होंने कहा कि हर निर्वाचन क्षेत्र में छह से अधिक मजबूत दावेदार हैं। हर सीट पर टिकट न मिलने से निराश पांच नेता किसी अन्य पार्टी में शामिल हो सकते हैं या राजनीतिक बदले की भावना से पार्टी उम्मीदवारों के खिलाफ काम कर सकते हैं।

भाजपा का टिकट चाहने वाले सभी उम्मीदवारों ने सार्वजनिक तौर पर पार्टी उम्मीदवार का समर्थन करने का वादा किया है।

जावड़ेकर ने कहा, "मैने रविवार को मुख्यमंत्री ओकराम ओबीबी सिंह से नैतिक आधार पर इस्तीफा देने का आग्रह किया था क्योंकि वह नाकेबंदी पर राजनीति कर रहे हैं।"

केंद्रीय मंत्री ने कहा, "कानून और व्यवस्था राज्य के अधीन होती है, इसलिए हम आग्रह पर अर्धसैनिक बल भेजने के अतिरिक्त और कुछ नहीं कर सकते। लेकिन, इबोबी राजनीतिक लाभ के लिए बलों का प्रयोग नहीं कर रहे।"

कांग्रेस के एक नेता ने कहा, "मणिपुर सरकार के अर्धसैनिक बलों की 60 टुकड़ियों की तैनाती के आग्रह के बावजूद केंद्र ने केवल 29 टुकड़ियां भेजी हैं और यह नाकाफी है।"

जावड़ेकर ने मुख्यमंत्री पर इस्तीफे की उनकी मांग का जवाब न देने का आरोप भी लगाया।

इस पर कांग्रेस नेता ने कहा, "इबोबी पार्टी के काम के लिए दिल्ली गए हैं, वापस लौटकर वह जावड़ेकर को करारा जवाब देंगे।"

जावड़ेकर ने कहा कि नाकेबंदी के कारण मणिपुर के लोगों को हो रही परेशानी के बावजूद राज्य सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा आयोजित त्रिपक्षीय वार्ता में शामिल होने से इनकार कर दिया।

उन्होंने कहा, "इबोबी को लोगों की फिक्र नहीं है।"

रविवार से पार्टी कार्यालय में टिकट चाहने वालों का तांता लगा हुआ है, लेकिन जावड़ेकर, लोकसभा सदस्य प्रहलाद सिंह पटेल और राज्य इकाई के नेताओं ने किसी से भी मुलाकात से इनकार कर दिया है।

इसके विपरीत उन्हें सूचित कर दिया गया है कि राज्य चुनाव समिति ने उम्मीदवारों की सूची तैयार कर ली है और सूची जल्द ही पार्टी की राष्ट्रीय चुनाव समिति को सौंप दी जाएगी।

POPULAR ON IBN7.IN