पंजाब, उप्र चुनावों में त्रिपुरा राज्य राइफल्स के जवान तैनात होंगे

 

अगरतला:  उत्तर प्रदेश और पंजाब के आगामी विधानसभा चुनावों में त्रिपुरा राज्य राइफल्स (टीएसआर) के दो बटालियन तैनात किए जाएंगे। एक अधिकारी ने यहां शनिवार को यह जानकारी दी। त्रिपुरा के गृह विभाग के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, "कमांडेर पिनाकी सामंत और केरी मराक के नेतृत्व में टीएसआर के दो बटालियन शुक्रवार को पंजाब के लिए यहां से रवाना हो गए।"

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के निर्देश के अनुरूप टीएसआर के जवान पंजाब में तैनात किए जाएंगे और पंजाब विधानसभा चुनावों के बाद वे उत्तर प्रदेश के लिए प्रस्थान करेंगे।

अधिकारी ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के निवेदन पर आतंकवाद विरोधी प्रशिक्षित बल दो राज्यों के लिए भेजे गए हैं।

पंजाब में विधान सभा के लिए मतदान 4 फरवरी को होगा, जबकि उत्तर प्रदेश में 11 फरवरी से 8 मार्च तक मतदान सात चरणों में होगा।

अधिकारी ने कहा, "साल 2010 में नई दिल्ली में राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान सुरक्षा प्रदान करने के अलावा टीएसआर के भारतीय रिजर्व (आईआर) बटालियन पहले बिहार, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़, झारखंड, हरियाणा, नगालैंड और मिजोरम में चुनावों के दौरान सुरक्षा प्रदान करने के लिए भेजे गए थे।"

टीएसआर के बटालियन आतंकवाद विरोधी अभियानों के लिए प्रशिक्षित हैं। आतंकवाद और उग्रवाद से निपटने के लिए इसका गठन साल 1984 में किया गया था। इस बल में 75 प्रतिशत जवान त्रिपुरा के हैं, जबकि शेष 25 प्रतिशत जवान देश भर से भर्ती किए गए हैं।

राज्य में टीएसआर के 12 बटालियन हैं जिनमें 9 भारतीय रिजर्व बटालियन हैं जिन्हें गृह मंत्रालय द्वारा भारत में कहीं भी तैनात किया जा सकता है। केंद्र सरकार ने टीएसआर के तीन और बटालियन बनाने की स्वीकृति दे दी है।

अधिकारी ने आगे कहा कि सीमा सुरक्षा बल और असम राइफल्स की तर्ज पर टीएसआर का गठन हुआ है। इसने त्रिपुरा में साढ़े चार दशक पुराने उग्रवाद को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

POPULAR ON IBN7.IN